पीएम की रैली एतिहासिक होगी, हजारों की संख्या में शामिल होंगे लोग

0
174

सुपौल/प्रतिनिधि: करीब दो हजार करोड़ रुपये की सड़क योजनाओं के लिए एनडीए सरकार का आभारप्रकट करते हुए भाजपा नेताओं ने कहा की आगामी 3 मार्च को पटना के एतिहासिक गांधी मैदान में आहूत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की संकल्‍प रैली में कोसी से बड़ी संख्‍या में लोग शामिल होंगे। इसके लिए बड़े पैमाने पर भारतीय जनता पार्टी ने कोसी में सघन जनसंपर्क चलाया है। इस दौरान लोगों को रैली का भारी समर्थन मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली एक बार फिर से इतिहास बनायेगी और साल 2013 से भी बड़ा जैन सैलाब प्रधानमंत्री को सुनने के लिए गांधी मैदान पटना में उमरने वाली है। कोसी से भी लाखों की संख्‍या में लोग 3 मार्च को पटना में होने वाली रैली में शामिल होंगे।


-ये दावा आज सुपौल स्तिथ विजया भारती होटल परिसर मे  भारतीय जनता पार्टी के नेताओ ने पीसी कर कहा पूर्व विधायक किशोर कुमार ने कहा कि आज देश मोदी जी के नेतृत्‍व से गौरवान्वित है। हर क्षेत्र में देश आज तरक्‍की की राह पर है। देश की सामरिक, आर्थिक और राजनीतिक शक्ति विश्‍व पटल पर उभर कर सामने आयी है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नेतृत्‍व वाली एनडीए की सरकार ने देश को वैश्विक पटल पर एक पहचान दिलाई है। ऐसे नेतृत्‍वकर्ता किस्‍मत वालों को नसीब होती है। भारत देश की महान जनता ने उन्‍हें जो काम सौंपा था, उसके लिए उन्‍होंने दिन रात एक कर दी है, कहा कि कोसी की जनता ये जानती है कि उनका विकास एनडीए की सरकार में ज्‍यादा हुआ है। चाहे वो दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में हुआ या अब नरेंद्र भाई मोदी की सरकार में हो रहा है।

बेहद गौरतलब है कि कांग्रेस ने कोसी की हमेशा उपेक्षा की और उनको समर्थन करने वाली प्रदेश की पार्टियों ने कोसी का इस्‍तेमाल सिर्फ वोट के लिए किया। लेकिन जब भी एनडीए को कोसी के लिए काम करने का मौका मिला, तब – तब एनडीए की सरकार ने कोसी को विकास की मुख्‍य धारा में लाने की पुरजोर कोशिश की है।उन्‍होंने कहा कि इसका जीता जागता उदाहरण कल केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जी के द्वारा मधेपुरा स्टेडियम में आयोजित भव्य समारोह में करीब दो हजार करोड़ रुपये की सड़क परियोजनाओं का शुभारंभ है। इसके तहत एन एच 527 ए और 327 के बकौर – परसराम – बनगांव – बरियाही खंड और महिषी तक स्‍पर का निर्माण (लंबाई 39.145 किमी, लागत 357.00 करोड़, एन एच 527 ए विदेश्‍वर स्‍थान से भेजा खंड का निर्माण (लंबाई 26.04 किमी, लागत 337.06 करोड़) और एन एच 527 ए भेजा – बकौर के बीच कोसी नदी पर पुल का पहुंच पथ सहित निर्माण (13.3 किमी, 984.29 करोड) का शुभारंभ हुआ। कोशी नदी पर भेजा-बकौर के बीच 10.2 किमी देश की सबसे लंबी पुल का निर्माण किया जायेगा । इस सरक एवं पल पर कुल लागत रुपया 2282.99 करोड़ होगी जो अगले 3 वर्षों में पूरी हो जायेगी । यह परियोजना सुपौल एवं कोशी के विकाश ले लिए वरदान साबित होगा । पूरा सुपौल-कोसी वासी इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जी का आभारी है, जिन्‍होंने दिवंगत पीएम वाजपेयी जी के सपने को आगे बढ़ाने का काम किया है। श्री गडकरी जी ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के द्वारा निर्मित कोशी महासेतु का नाम ‘अटल सेतु’ की घोषणा की जो, कोशी के आम-जन का वर्षो से यह मांग था । कोशी की जनता इसके लिए भी आभारी है .बाइट –किशोर कुमार मुन्ना , पूर्व विधायक सह भाजपा नेता .