39 C
Delhi
Homeबिहारपटनातेजस्वी यादव का आरोप- तानाशाह होते जा रहे हैं नीतीश, सदन में...

तेजस्वी यादव का आरोप- तानाशाह होते जा रहे हैं नीतीश, सदन में बंद करवा रहे हैं हमारा माइक

- Advertisement -spot_img

पटना/नियाज़ आलम: बिहार विधानमंडल का बजट सत्र जारी है। मंगलवार को प्रदेश का 2019 बजट पेश होने के बाद से विपक्ष लगातार सरकार पर हमलावर है। इसी बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है।

उन्होंने कहा है कि सदन में हमारा कार्य स्थगन प्रस्ताव स्वीकार नहीं किया जा रहा है। बोलने पर मेरा माइक बंद कर दिया जाता है। नीतीश जी आपकी तानाशाही नहीं चलेगी। जनता को तो जवाब देना ही होगा। इसके साथ ही उन्होंने सरकार को घेरते हुए कहा है कि मुज्ज़फरपुर बालिका गृह बलात्कार कांड में 34 बच्चियों के साथ हुए जघन्य अपराध में सीबीआई द्वारा बिहार के मुख्यमंत्री और उनके नज़दीकियों को संरक्षण दिया जा रहा है क्योंकि इन लोगों की अपराध और अपराधियों को बचाने में सीधी संलिप्तता है।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा लगातार नीतीश सरकार को कड़ी फटकार लगाई जा रही है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक के बावजूद नीतीश कुमार को बचाने के लिए CBI जाँच अधिकारी का तबादला कर दिया जाता है। मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की सीडीआर डिटेल्स सार्वजनिक की जाए क्योंकि अभी भी तोंद और मूँछ वाला मंत्री बचा हुआ है।

मुख्यमंत्री के सबसे क़रीबी नेता का पीए मधुबनी बालिका गृह चलाता था जहाँ से लड़कियाँ ग़ायब हुई और उनकी हत्या भी हुई। मुख्यमंत्री मधुबनी बालिका गृह कांड का ज़िक्र करने में शर्माते क्यों है। उन्होंने कहा कि सीबीआई द्वारा अभी तक 3000 करोड़ सृजन घोटाले के मुख्य अभियुक्त नहीं पकड़े गए है क्योंकि उन घोटालेबाजों की नीतीश कुमार और सुशील मोदी की रसोई तक पहुँच है।

नीतीश जी अपनी गर्दन बचाने और 40 घोटालों में हुए भ्रष्टाचार के पाप धोने के लिए BJP और RSS की शरण में गए है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी है कि बिहार में बेहद डरावना और भयावह माहौल है। बिहार में कुछ भी ठीक नहीं है। लेकिन मुख्यमंत्री इन टिप्पणियों के बावजूद लज्जा कर कहते है सब ठीक है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -