35.1 C
Delhi
Homeबिहारपटनादोषी पाए गए हैं सोनपुर के पूर्व SDPO, तीन बार के वेतन...

दोषी पाए गए हैं सोनपुर के पूर्व SDPO, तीन बार के वेतन वृद्धि पर सरकार ने लगाई रोक

- Advertisement -spot_img

पटना/अमित जायसवाल: एनआईटी घाट के सामने गंगा नदी में नाव हादसा हुआ था. मामला 14 जनवरी 2017 का है. जिसमें 21 लोग गंगा नदी में डूब गए थे. जिस जगह पर हादसा हुआ, वो सारण जिले के सोनपुर सब डिवीजन में आता है. इस मामले में बिहार सरकार ने सोनपुर के पूर्व एसडीपीओ मो. अली अंसारी को दोषी पाया है.

बुधवार को गृह विभाग ने एक आदेश जारी कर डीएसपी मो. अली अंसारी की वेतन वृद्धि पर रोक लगा दी है. वेतन वृद्धि पर ये रोक तीन बार के लिए लगाई गई है. आपको बता दें कि मो. अली अंसारी वर्तमान में पटना के ट्रैफिक डीएसपी के पद पर हैं.


— बेटी के जन्मदिन को दी प्राथमिकता
बिहार सरकार ने उस वक्त इस नाव हादसे के जांच की जिम्मेवारी आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव और सेंट्रल रेंज के डीआईजी को दी थी. जांच में ये बात सामने आई कि जिस दिन नाव हादसा हुआ था, उसी दिन मो. अली अंसारी की बेटी का जन्मदिन था. बिहार सरकार के टूरिज्म डिपार्टमेंट की ओर से ही सोनपुर के सबलुपर दियारा में पतंग उत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया गया था.

इसी कार्यक्रम में शामिल होने के बाद शाम को काफी संख्या में लोग नाव से एनआईटी घाट की तरफ आ रहे थे. जिसके बाद ये हादसा हो गया था. रिपोर्ट में ये बात कही गई है कि डीएसपी मो. अली अंसारी ने ड्यूटी से ज्यादा अपनी बेटी के जन्मदिन को प्राथमिकता दी थी.

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -