29.1 C
Delhi
HomeEducationआंध्र प्रदेश में इवैल्यूएशन क्राइटेरिया पर की जाएगी मार्किंग

आंध्र प्रदेश में इवैल्यूएशन क्राइटेरिया पर की जाएगी मार्किंग

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क : कोरोना की वजह से बच्चो की पढाई में काफी बदलाव देखने को मिले है। हर राज्य अपने तरीके से मूल्यांकन का मानदंड तय कर रहा है। अब आंध्र प्रदेश सरकार ने भी इस पर अपना फैसला सुना दिया है। सरकार ने कक्षा 12 के छात्रों के लिए मूल्यांकन मानदंड जारी करते हुएकहा कि इवैल्यूएशन क्राइटेरिया के अनुसार कक्षा 10 और कक्षा 11 में छात्रों के प्रदर्शन के आधार पर मार्क्स दिए जाए और कक्षा 10 के टॉप तीन विषयों में प्राप्त अंकों को 30 प्रतिशत वेटेज देगा।

इसके साथ ही 70 प्रतिशत इंटरमीडिएट फर्स्ट ईयर या कक्षा 11 में छात्रों द्वारा प्राप्त विषयवार अंकों के आधार पर होंगे। इंटर का परिणाम तैयार करने के लिए कक्षा 10 के 30 प्रतिशत मार्क्स सामाजिक विज्ञान, विज्ञान और गणित से लिए जाएंगे। छात्रों के प्रैक्टिकल एग्जाम के मार्क्स पर भी विचार किया जाएगा क्योंकि इस परीक्षा को कोविड-19 की दूसरी लहर के शुरू होने से पहले आयोजित किया गया था।

31 जुलाई तक इंटरनल असेसमेंट का परिणाम घोषित होगा :

आंध्र प्रदेश सरकार ने भारत के सर्वोच्च न्यायालय को बताया था कि उसने कक्षा 12 की परीक्षा रद्द कर दी हैं जो राज्य बोर्ड द्वारा आयोजित की जानी थी और 31 जुलाई तक आंतरिक मूल्यांकन का परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। कक्षा 12 के छात्रों के लिए एपी इंटर परिणाम 2021 बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर घोषित किया जाएगा।

फिर से खोले जाएंगे स्कूल :

कोरोना केस में गिरावट को देखते हुए आंध्र प्रदेश में 16 अगस्त से फिर से स्कूल खोले जायेंगे। इस बात की जानकारी राज्य के शिक्षा मंत्री ऑडिमुलपु सुरेश ने खुद की है। वही ऑनलाइन कक्षाएं 12 जुलाई से शुरू हो जाएंगी।

ये भी पढ़े …..

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -