9.1 C
Delhi
Homeदिल्ली‘सुडोकू के गॉडफादर’ माकी काजी का निधन, बनाया था ऐसा दिलचस्प खेल

‘सुडोकू के गॉडफादर’ माकी काजी का निधन, बनाया था ऐसा दिलचस्प खेल

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क: 69 वर्ष की उम्र में ‘सुडोकू के गॉडफादर’ माकी काजी का निधन हो गया। माकी काजी की पहचान एक पजल उत्साही और प्रकाशक के तौर पर होती थी और उनकी कंपनी ने उनके निधन की जानकारी दी। सुडोकू को उन्होंने दुनिया के सामने पेश किया था।

एक यूनिवर्सिटी से वह ड्रॉपआउट थे। उन्होंने पहेली पत्रिका की स्थापना से पहले एक प्रिटिंग कंपनी में काम किया। उनकी कंपनी निकोली ने बेवसाइट पर कहा कि सुडोकू के गॉडफादर के रूप में जाने जाने वाले माकी काजी को दुनियाभर में पहेली प्रेमियों द्वारा प्यार दिया गया।

पित्त नली का कैंसर के कारण उनका निधन हो गया था। लगभग दो दशक पहले सुडोकू जापान के बाहर लोकप्रिय हुआ। बता दे लोकप्रिय होने की वजह विदेशी समाचार पत्रों द्वारा इसे छापना रहा। सुडोकू को मानसिक क्षमताओं को तेज रखने के तरीके के रूप में प्रशंसा की जाती है। सूडोकू एक तर्क वाला खेल होता है, जो एक वर्ग पहेली की तरह होता है। खेल को खेलने के लिए दिमाग को काफी तेज इस्तेमाल करना होता है , खेल काफी दिलचस्प होता है। इसके नियम बहुत आसान हैं। इस खेल को आप अखबार पर छपे हुए भी देख सकते हैं और ऑनलाइन भी खेला जा सकता है।

2006 से हर साल सुडोकू को लेकर एक विश्व चैंपियनशिप का आयोजन भी किया जाता है। काजी ने अपनी क्वाटरली पहेली पत्रिका के पाठकों की मदद से पहेलियां बनाना और उन्हें बेहतर बनाना जारी रखा। हालांकि जुलाई में स्वास्थ्य कारणों की वजह से अपनी कंपनी के प्रमुख के रूप में पद छोड़ दिया।

यह भी पढ़े –

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -