30.1 C
Delhi
Homeदिल्लीतेजस एक्सप्रेस में करना है सफर तो हो जाएं तैयार, पटरियों पर...

तेजस एक्सप्रेस में करना है सफर तो हो जाएं तैयार, पटरियों पर फिर रफ्तार पकडे़गी ट्रेन, आईआरसीटीसी की तैयारियां पूरी

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क / अनू अस्थाना:  तेजस एक्सप्रेस का सफर करने की सोच रहे लोगों के लिए अच्छी खबर है, क्योंकि एक बार फिर से आईआरसीटीसी की प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस पटरी पर लौट रही है। अगस्त महीने से एक बार फिर से तेजस एक्सप्रेस की सेवा शुरू हो जाएगी। लखनऊ से चल कर नई दिल्ली जाने वाली यह ट्रेन कानपुर सेंट्रल से होकर गुजरती है।
ट्रेन को चलाने की तैयारियां पूरी होने के बाद आईआरसीटीसी के प्रस्ताव पर रेलवे बोर्ड ने मंजूरी दी है।

जिसके बाद आईआरसीटीसी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस सात अगस्त से शुरू हो जाएगी। यह ट्रेन सप्ताह में चार दिन चलाई जाएगी। सात अगस्त से तेजस एक्सप्रेस (82501/02) लखनऊ जंक्शन से शुक्रवार, शनिवार, रविवार व सोमवार को सुबह 6.10 बजे रवाना होकर कानपुर सेंट्रल पर सुबह 7.20 बजे पहुंचेगी। पांच मिनट बाद यहां से रवाना होकर नई दिल्ली दोपहर 12.25 बजे पहुंचेगी। वापसी में नई दिल्ली से दोपहर 3.40 बजे चलकर रात 8.35 बजे कानपुर सेंट्रल पहुंचेगी और पांच मिनट बाद यहां से रवाना होकर रात 10.05 बजे लखनऊ पहुंचेगी। इस ट्रेन का गाजियाबाद में भी स्टापेज है।

इसके अलावा ट्रेन संख्या 82902/82901 मुंबई-अहमदाबाद तेजस एक्सप्रेस भी वापस पटरियों पर लौट आई है। मुंबई-अहदाबाद के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस हफ्ते में 4 दिन यानी शुक्रवार, शनिवार, रविवार और सोमवार को चलेगी। ट्रेन से संचालन के दौरान कोरोना गाइडलाइंस का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। यात्रियों की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखा जाएगा। तेजस एक्सप्रेस देश की पहली प्राइवेट ट्रेन है। ट्रेन की संचालन आईआरसीटीसी करती है। इसके रखरखाव संबंधी भी सभी जिम्मेदारी आईआरसीटीसी के पास है।

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बंद की गई थी सेवा
कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बढ़ते संक्रमण और यात्रियों की घटती संख्या को देखते हुए आईआरसीटीसी ने 2 अप्रैल को इसके परिचालन को अस्थाई रूप से रोक दिया था। वहीं इससे पहले कोरोना की पहली लहर के दौरान भी नवंबर में इसकी सेवा को बंद कर दिया गया था। वहीं कानपुर में भी 19 मार्च 2020, 23 नवंबर 2020 और 4 अप्रैल 2021 को तेजस एक्सप्रेस बंद की गई।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -