29.1 C
Delhi
Homeदिल्लीजानिए क्यों हिमाचल प्रदेश में हुआ प्रशासन सख्त

जानिए क्यों हिमाचल प्रदेश में हुआ प्रशासन सख्त

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क : कोरोना महामारी के कारण देश में लॉकडाउन लगाया गया था। अब धीरे – धीरे राज्य सरकारों ने लॉकडाउन में ढील देना शुरू कर दिया है। सरकार ने लॉकडाउन में ढील क्या दी तो लोग एकदम बेपरवाह हो गए। ऐसा ही कुछ नज़ारा हिमाचल प्रदेश में देखने को मिला,जहां टूरिस्ट्स कोविड नियमों का उल्लंघन करते हुए दिखे। इसके बाद अब केंद्रीय मंत्रालय ने कोविड के उचित व्यवहार के बड़े पैमाने पर उल्लंघन को लेकर हिमाचल प्रदेश सरकार को पत्र लिखा था।

प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए कहा है कि मास्क नहीं लगाने पर 5000 रुपए तक जुर्माना या आठ दिन की जेल भी हो सकती है। लॉकडाउन में ढील के बाद लोग शिमला और मनाली की तरफ रुख कर रहे हैं। केंद्र ने महामारी के बीच हिल स्टेशनों पर बड़ी संख्या में लोगों के उमड़ने की तस्वीरों को ‘डराने वाली’ बताया। सरकार ने कहा कि कोविड प्रोटेकॉल का उल्लंघन करने वाले लोग संक्रमण को और अधिक बढ़ाएंगे।

पीएम ने चिंता जताई :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भीड़-भाड़ वाली जगहों, बिना मास्क के घूम रहे लोगों या सामाजिक दूरी के उल्लंघन वाले दृश्यों पर चिंता जताई। उन्होंने कहा कि कोविड के खिलाफ भारत की लड़ाई पूरे जोश के साथ चल रही है, इसमें लापरवाही या कमी के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए।

पीएम मोदी ने भीड़भाड़ वाली जगहों की फोटो और वीडियो का हवाला देते हुए कहा कि यह अच्छा दृश्य नहीं है और इससे हमारे भीतर ‘भय की अनुभूति’ होनी चाहिए। पीएम ने मंत्रियों से बातचीत करते हुए कहा कि लोगों में डर पैदा करना लक्ष्य नहीं होना चाहिए बल्कि जनता से सभी प्रकार की सावधानी बरतने का आग्रह करना चाहिए ताकि आने वाले समय में राष्ट्र इस महामारी के संकट से उबर सके।

ये भी पढ़े…..

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -