दिग्गज पहलवानों का धरना जारी, महिला पहलवानों को मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया जाता है- विनेश फोगाट

0
687

DESK : भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष और बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ महिला पहलवानों के यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है. बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ जंतर-मंतर पर ओलंपियन विनेश फोगाट के नेतृत्व में देश के कई दिग्गज पहलवानों का धरना शुक्रवार (20 जनवरी) को भी जारी है. जानकारी के अनुसार, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर एक बार फिर से खिलाड़ियों से मुलाकात करेंगे. वहीं, खिलाड़ियों के यौन उत्पीड़न जैसे गंभीर आरोप झेल रहे भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है. संभावना जताई जा रही है कि इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में बृजभूषण आरोपों को लेकर बड़ा खुलासा करने की भी संभावना जताई जा रही है. उनके कार्यालय की ओर इस कार्यक्रम को ‘कुश्ती और कुश्ती के खिलाफ साजिश करने और महिला पहलवानों की इज्जत के साथ खिलवाड़ करने की राजनैतिक साजिश का पर्दाफाश’ का नाम दिया गया है.

बीते दिन खेल मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बातचीत के बाद विनेश फोगाट ने बड़ा बयान देते हुए कहा था कि जब शोषण होता है, तो कमरे में होता है और कमरे में कैमरा नहीं होता. जिन लड़कियों का शोषण हुआ वो खुद सबूत हैं. विनेश फोगाट ने मीडिया से बातचीत में आरोप लगाते हुए पूछा था कि आखिर क्या वजह है, जो नेशनल कैंप लखनऊ में आयोजित होता है? विनेश फोगाट ने दावा किया कि लखनऊ में राष्ट्रीय शिविर में महिला पहलवानों का यौन शोषण होता है. लखनऊ के राष्ट्रीय शिविर में कई कोच और WFI अध्यक्ष ने भी महिला पहलवानों का यौन शोषण किया है.

हालांकि, उन्होंने साफ किया कि उन्हें इस तरह के शोषण का सामना नहीं करना पड़ा है. विनेश फोगाट ने आरोप लगाए थे कि महिला पहलवानों को मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया जाता है. उन्होंने बृजभूषण शरण सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ महिलाएं डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष के कहने पर महिला पहलवानों से संपर्क करती हैं. उन्होंने दावा किया कि लखनऊ में उनका घर है, जिसके चलते वो वहां कैंप लगवाते हैं. जिससे लड़कियों का शोषण आसानी से किया जा सके. उन्होंने दावा किया कि बंद कमरे में महिला पहलवानों का शोषण होता है.

महिला पहलवान विनेश फोगाट का आरोप है कि डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष महिला पहलवानों के निजी जीवन और रिश्तों में दखल देने की कोशिश करते हैं. पहलवानों ने मीडिया से बातचीत में दावा किया कि उनके पास भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष के खिलाफ सारे सबूत हैं. उन्होंने कहा कि उनके साथ 5-6 लड़कियां हैं, जिनका यौन शोषण हुआ है और इसे साबित करने के लिए सबूत भी हैं. हालांकि, वो इन्हें सार्वजानिक नहीं करना चाहते हैं. पहलवानों ने कहा कि हम इस मामले में केस दर्ज कराएंगे और बृजभूषण शरण सिंह का इस्तीफा दिलवाकर जेल भिजवाएंगे.

इस पूरे मामले के सामने आने पर खेल मंत्रालय ने कुश्ती महासंघ को पत्र लिखकर 72 घंटे में जवाब मांगा है. वहीं, विनेश फोगट ने कहा कि सरकार को इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए और कुश्ती महासंघ में पूर्व पहलवानों को नियुक्त करना चाहिए. उन्होंने मांग करते हुए कहा कि भारतीय कुश्ती महासंघ को तुरंत भंग कर देना चाहिए. वहीं, बृजभूषण शरण सिंह ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि यौन शोषण का आरोप सच साबित हुआ, तो वो फांसी पर लटकने को तैयार हैं.