चंपारण : संघर्ष से पत्रकारिता को मिलती है मंजिल, गिरावट के दौर में पत्रकार दिखाएं फिर से तेवर : पूर्व कुलपति

चंपारण/राजन दत्त द्विवेदी : सुषमा फिल्म्स के तत्वावधान में मोतिहारी के राधा शिकारिया बीएड कॉलेज के सभागार में पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बीआर अंबेडकर विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ रविंद्र कुमार रवि ने कहा कि संघर्ष के बीच जो व्यक्ति पत्रकारिता करते हैं, वे ही सही मायने में वे समाज की सुरक्षा करते हुए विकसित समाज के निर्माण में भागीदार बनते हैं।



जबकि आज के दौर में पत्रकारिता व्यवसायिक रूप ले लिया है। इससे समाज को काफी नुकसान है। आज़ के पत्रकार को चाहिए प्रेमचंद जैसे पत्रकार से प्रेरणा लें। जिन्होंने अंग्रेजों के दबाव पर भी अपने कलम को कुंद नहीं होने दिया। कहा कि पत्रकार पहले साहित्यकार ही होते थे और जो साहित्यकार होते थे वही पत्रकार भी होते थे।

पत्रकारों के ऊपर बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है, वे समाज के दर्पण हैं। गिरावट के दौर में पत्रकारों को एक बार फिर अपने तेवर को दिखाना होगा। समारोह के उद्घाटन कर्ता पूर्व मंत्री ब्रजकिशोर सिंह ने कहा कि चंपारण के पत्रकारों ने देश में काफी कार्य किए और चंपारण का नाम रोशन किया है। बीएड कॉलेज के डायरेक्टर शम्भु शिकारिया ने कहा कि कभी पत्रकारों के समाचार पर पूरा समाज जग जाता था, लेकिन आज पत्रकार भी कुंठित हो रहे हैं।

सुषमा फिल्म्स के डायरेक्टर एवं पत्रकार डीके आजाद ने आगत अतिथियों का स्वागत करते हुए कार्यक्रम के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। कहा मैंने भी पत्रकारिता की है। इसलिए मेरे दिल में इच्छा थी कि पत्रकारों को एक मंच पर बुलाकर के उन्हें सम्मानित करें। पूर्वी चंपारण के पत्रकारों ने देश के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर पत्रकारिता को जगत मे चम्पारण का नाम रोशन किया है।

उन्हें सम्मान करने की हमारी दिली इच्छा थी, आज वह पूरी हो रही है। जनशक्ति अखबार के संवाददाता शेख मोहम्मद हाशिम व कौमी तंजीम के ओजैर अंजुम ने पत्रकारिता सेवा को आज के दौर में सबसे बड़ी सेवा कहा। मंच संचालन कर रहे मुंशी सिह महाविद्यालय के हिंदी विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डॉ अरुण कुमार ने कहा के पत्रकारिता काफी जोखिम भरा कार्य है।

तीन श्रेणियों में पत्रकारों को किया सम्मानित – सम्मान समारोह मे पूर्वी चंपारण जिले के लगभग तीन दर्जन पत्रकारों को तीन श्रेणियों में सम्मानित किया गया। सभी पत्रकारों को प्रशस्ती पत्र, मोमेंटो, फुल माला देकर व अंगवस्त्र से सम्मानित किया गया।

सम्मानित होने वाले पत्रकारों में 35 वर्ष से अधिक सेवा देने वाले, 65 वर्ष से अधिक उम्र वाले 11 पत्रकारो को लाइव टाइम अचीवमेंट सम्मान से सम्मानित किया गया। जिसमें सुरेंद्र कुमार , चंद्र भूषण पांडे , योगेंद्र नाथ शर्मा, मदन मोहन तिवारी , अर्जुन भारतीय , अशोक कुमार वर्मा, शंभू नाथ झा , दिवाकर मणि त्रिपाठी , आरएन सिन्हा एवं संजय ठाकुर थे। मीडिया सेलिब्रिटी अवार्ड से सम्मानित होनेवाले पत्रकारो मे वैसे पत्रकार थे जो जिले में जिले से बाहर पत्रकारिता के क्षेत्र में पहचान अर्जित किए हैं।

इस श्रेणी में राकेश प्रवीर , राजन दत्त द्विवेदी, रवि भूषण सिन्हा, प्रमोद पांडे , रवि प्रकाश, आलोक रंजन, अमरेंद्र तिवारी, मृत्युंजय भारद्वाज, अजय कुमार पांडे, नरेन्द्र झा एवं मुन्ना मिश्र सम्मिलित है। साथ ही जिले में जो पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करते हुए समाज के लिए कार्य कर रहे इम्तियाज अहमद, सुशील वर्मा, विनोद कुमार सिंह, सच्चिदानंद सत्यार्थी, ओजैर अंजुम, अनिल तिवारी, मुक्ति नाथ सिंह , संजय कुमार सिंह , सत्येंद्र झा , मोहन जी, विजय गिरि, तथा सचिन पण्डये को यूथ आइकन अवार्ड से सम्मानित किया गया है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ रविंद्र कुमार रवि, गांधी संग्रहालय के सचिव बृज किशोर सिंह, संगीत महाविद्यालय के संस्थापक शैलेंद्र जी, शम्भु सिकरिया, मेघना के अलावा गीत प्रस्तुत करने कलाकारों को भी सम्मानित किया गया।