31.1 C
Delhi
Homeपूर्वी चंपारणचंपारण : पूर्वी चंपारण के तीन प्रखंडों में कड़ी सुरक्षा के बीच...

चंपारण : पूर्वी चंपारण के तीन प्रखंडों में कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान शुरू

- Advertisement -spot_img
  • मोतिहारी सदर, कोटवा व पिपराकोठी प्रखंड में हो रहा मतदान

मोतिहारी/राजन दत्त द्विवेदी। पंचायत चुनाव के आठवें चरण में पूर्वी चंपारण जिले के तीन प्रखंडों के 38 पंचायतों में बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान सुबह सात बजे से शुरू हो गया। इस दौरान कोटवा प्रखंड के बूथ न. 74 व 75 पर पुलिस पदाधिकारी अनुपस्थित रहे। जबकि ये दोनों मतदान केंद्र प्रशासन द्वारा संवेदनशील के रूप में चिह्नित किया हुआ है।

वहीं कौआहा कररिया स्थित बूथ न. 24 पर ईवीएम खराब हो गई, इस कारण समय से मतदान शुरू नहीं हो सका। यहां बता दें कि जिला मुख्यालय के समीपवर्ती मोतिहारी सदर, कोटवा व पिपराकोठी प्रखंड क्षेत्र की 38 पंचायतों के 532 मतदान केंद्रों पर मतदान की प्रक्रिया चल रही है।

यहां दो लाख 86 हजार से अधिक मतदाता 5153 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला आज इवीएम व मतपत्रों के माध्यम से करेंगे। शांतिपूर्ण, निष्पक्ष व भयमुक्त मतदान कराने को लेकर काफी संख्या में कर्मियों व सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। तीन दर्जन लोगों को जिला बदर भी किया गया है। जिला मुख्यालय स्थित राधाकृष्णन भवन में बनाए गए जिला नियंत्रण कक्ष से भी सारी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

  • मोतिहारी सदर, कोटवा व पिपराकोठी प्रखंड में हो रहा मतदान

मोतिहारी / राजन दत्त द्विवेदी। पंचायत चुनाव के आठवें चरण में पूर्वी चंपारण जिले के तीन प्रखंडों के 38 पंचायतों में बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान सुबह सात बजे से शुरू हो गया। इस दौरान कोटवा प्रखंड के बूथ न. 74 व 75 पर पुलिस पदाधिकारी अनुपस्थित रहे। जबकि ये दोनों मतदान केंद्र प्रशासन द्वारा संवेदनशील के रूप में चिह्नित किया हुआ है। वहीं कौआहा कररिया स्थित बूथ न. 24 पर ईवीएम खराब हो गई, इस कारण समय से मतदान शुरू नहीं हो सका। यहां बता दें कि जिला मुख्यालय के समीपवर्ती मोतिहारी सदर, कोटवा व पिपराकोठी प्रखंड क्षेत्र की 38 पंचायतों के 532 मतदान केंद्रों पर मतदान की प्रक्रिया चल रही है। यहां दो लाख 86 हजार से अधिक मतदाता 5153 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला आज इवीएम व मतपत्रों के माध्यम से करेंगे। शांतिपूर्ण, निष्पक्ष व भयमुक्त मतदान कराने को लेकर काफी संख्या में कर्मियों व सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। तीन दर्जन लोगों को जिला बदर भी किया गया है। जिला मुख्यालय स्थित राधाकृष्णन भवन में बनाए गए जिला नियंत्रण कक्ष से भी सारी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -