लो परफॉर्मेंस वाले पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी अपने कार्यशैली और परफॉर्मेंस में सुधार लाएं : डीएम

चंपारण/राजन दत्त द्विवेदी : मोतिहारी जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यों एवं कोविड-19 के वैक्सीनेशन के लिए की गई तैयारियों का प्रखंड वार गहन समीक्षा की। इस दौरान वैक्सीनेशन के स्टोरेज, कोल्ड चेन मेंटेन करने ,पर्याप्त संख्या में मेडिकल स्टाफ को वैक्सीनेशन के कार्यों में लगाने एवं अन्य विभागों से सहयोग लेने का एवं उनके क्या कार्य होंगे, उन्हें मोटिवेट करने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया।



डीएम ने ओपीडी को खुला रखने, रूटीन इम्यूनाइजेशन, इंस्टिट्यूशन डिलीवरी,आवश्यक दवाइयां रोगियों को उपलब्ध कराने, इमरजेंसी सेवा आवश्यक रूप से करने, डॉक्टरों एवं पारा मेडिकल स्टाफ को अपने हेड क्वार्टर में रहने का निर्देश दिया। कहा कि लो परफॉर्मेंस वाले पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को समन्वय स्थापित कर अपने कार्यशैली और परफॉर्मेंस में सुधार लाएं।

जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि लो परफॉर्मेंस वाले चिकित्सक पारा मेडिकल स्टाफ को चिन्हित कर कार्रवाई के लिए सूची उपलब्ध कराएं। डीएम ने इंस्टीट्यूशनल डिलीवरी, गर्भवती माताओं एवं बच्चों के टीकाकरण पर जोर देते हुए इसमें सुधार लाने का निर्देश दिया। मौके पर अपर समाहर्ता एसीएमओ, गोपनीय शाखा के विशेष कार्य पदाधिकारी, डब्ल्यूएचओ , केयर के प्रतिनिधि सभी पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी व डीपीएम मौजूद थे।