PLFI का दूसरा सबसे बड़ा उग्रवादी संतोष यादव उर्फ टाइगर रांची से गिरफ्तार, 10 लाख का था इनाम

0
314

रांची : झारखंड पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. खूंखार उग्रवादी संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआई) का दूसरा सबसे बड़ा उग्रवादी संतोष यादव उर्फ टाइगर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उस पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित है. पुलिस ने टाइगर को रांची जिला के पंडरा स्थित उसके आवास से गिरफ्तार किया है.

बताया जा रहा है कि गुमला जिला के कामडारा में रविवार तड़के पुलिस और उग्रवादियों की मुठभेड़ में उसे गोली लगी थी. घायल होने के बाद संतोष यादव उर्फ टाइगर वहां से भागकर रांची आ गया और अपने घर में आराम कर रहा था. पुलिस को कहीं से यह सूचना मिल गयी और रविवार देर रात ही उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने रात में ही चटकपुर स्थित उसके घर से उसे उठाया और राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में भर्ती कराया. टाइगर के साथ उसकी पत्नी भी रिम्स में मौजूद है.

बता दें कि रविवार सुबह गुमला के कामडरा थाना क्षेत्र के आमटोली जंगल में मुठभेड़ हुई थी. इसमें दस लाख के इनामी नक्सली गुज्जू गोप समेत तीन पीएलएफआई उग्रवादी मारे गये थे. गुज्जू पीएलएफआई का सबजोनल कमांडर था, जबकि दो अन्य की पहचना एरिया कमांडर भउआ जी और विष्णु के रूप में हुई. इस मुठभेड़ में पीएलएफआई सरगमा दिनेश गोप समेत 6 उग्रवादी बचकर भाग निकले.

मौके से दो एके 47, दो रायफल, एक विदेशी पिस्टल, दो देशी पिस्टल, 100 से अधिक एके 47 की गोली, एक लाख रुपये, पचास से अधिक मोबाइल, और सिम बरामद किये गये. पुलिस और सीआरपीएफ 209 कोबरा की टीम मुठभेड़ में शामिल थी.