रांची के नर्सिंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट में 15 छत्राओं से बंद कमरे में गंदा काम, सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर छुआ प्राइवेट पार्ट

(स्टेट डेस्क ,रांची ) : रांची (खूंटी ) के एक नर्सिंग इंस्टीट्यूट में एक नहीँ 15 छात्राओं के साथ बंद कमरे में सहनशक्ति टेस्ट के नाम गंदी हरकत का सनसनीखेज मामला सामने आया है । इंस्टीट्यूट के डाइरेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया । खूंटी थाना क्षेत्र के तिरला में गैर सरकारी संस्था हाेरा द्वारा संचालित एक नर्सिंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ किसी और नहीं बल्कि संस्था के निर्देशक द्वारा सहनशक्ति के नाम पर किया गया है। इस संबंध में आरोपित निर्देशक परवेज आलम उर्फ बबलू के खिलाफ खूंटी महिला थाना में मामला दर्ज किया गया। मामला प्रकाश में आने के बाद शनिवार की सुबह खूंटी के प्रखंड विकास पदाधिकारी सविता सिंह, खूंटी की महिला थाना प्रभारी दुलारमनी टुडू, डीपीएम कनक लता ने नर्सिंग ट्रेनिंग सेंटर पहुंचकर मामले की जांच की।

इस क्रम में पदाधिकारियों ने छात्राओं के साथ पूछताछ की और निर्देशक के खिलाफ कार्रवई करने का आश्वासन दिया। छात्राओं के साथ पूछताछ के बाद पत्रकारों से बात करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि संस्था के निर्देशक द्वारा किए गए इस प्रकार के हरकत के बाद छात्राएं डरी हुई हैं। उन्हें अपने भविष्य की चिंता हो रही है। बावजूद इसके कुछ छात्राओं ने सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर छेड़छाड़ किए जाने के मामले को सही बताया है। सहनशक्ति टेस्ट के दौरान छात्राओं के गुप्तांगों को भी छूने का आरोप
संस्था के निर्देशक पर लगाया गया है। छात्राओं को पल्स चेक करने की बात कहकर निर्देशक ने छात्राओं के गुप्तांगों को छुआ । मामले को दबाने के लिए छात्राओं को डराया-धमकाया गया जिले के उपायुक्त शशि शेखर व पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने मामले पर त्वरि‍त कार्रवाई करते हुए मामले में शामिल सभी लोगों पर नियमानुसार कार्रवाई करने की बात कही है। मामले की गंभीरता से जांच के निर्देश दिए जाने के बाद पुलिस व प्रशासन के अधिकारी रेस में आ गए।

  • कैसे आया प्रकाश में मामला
  • राज्यपाल आजादी के अमृत महोत्सव के मौके पर चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन करने शुक्रवार को खूंटी पहुंची थी। इस दौरान सामाजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी बखला ने नर्सिंग प्रशक्षिण केंद्र में निर्देशक द्वारा छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करने की जानकारी राज्यपाल को दी। इसके साथ उन्होंने खूंटी के अनुमंडल पदाधिकारी हेमंत सती को भी मामले की जानकारी दी। दरअसल, नर्सिंग सेंटर की छात्राओं ने सामाजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी बखला को छेड़छाड़ किए जाने की सूचना दी थी। छात्राओं ने मामले को उजागर कर आरोपित पर उचित कार्रवाई करने के लिए उनसे सहयोग मांगा था। सामाजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी बखला ने छात्राओं को आरोपित पर कार्रवाई करवाने का आश्वासन दिया था।

गैर सरकारी संस्था होरा द्वारा संचालित नरर्सिंग ट्रेनिंग सेंटर में फिलहाल 60 छात्राएं शामिल हैं। इनमें प्रथम वर्ष की 20 और द्वितीय वर्ष की 40 छात्राएं शामिल हैं। 60 छात्राओं में 58 छात्राएं खूंटी जिले के ही हैं। जबकि दो छात्रा गुमला जिले के पालकोट की रहने वाली हैं। गरीब परिवार से आने वाली सभी बच्ची अब अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं। खूंटी के तिरला स्थित होंडा एनजीओ के नर्सिंग इंस्टिट्यूट के छात्राओं के साथ छेड़छाड़ के मामले पर स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने संज्ञान लिया है। उन्होंने ट्विटर पर डीसी और एसपी को जांच का दिया आदेश देते हुए उचित कार्यवाई करने का निर्देश दिया हैं। खूंटी के विधायक सह पूर्व ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंड सिंह मुंडा ने कहा कि बेटी-बहन के साथ दुव्यवहार बर्दास्त नहीं किया जा सकता। नर्सिंग प्रशिक्षण सेंटर में छात्राओं के साथ संस्थान के कोषाध्यक्ष द्वारा सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर छात्राओं के साथ दुव्यवहार दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि जब कोषाध्यक्ष नर्सिंग के प्रशिक्षक नहीं हैं तो ऐसे में उन्होंने नर्सिंग की छात्राओं से अकेले एक कमरे में सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर दुव्यवहार करने की हिम्मत कैसे की।

नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करने के आरोपी इंस्टीट्यूट के निदेशक बबलू उर्फ परवेज कोखूंटी पुलिस ने पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया।जानकारी के अनुसार शनिवार को ही स्वास्थ्य मंत्री के आदेश के बाद खूंटी के तिरला स्थित होरा एनजीओ के नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ मामले की जांच शुरू की गयी थी. तीन सदस्यीय जांच टीम में बीडीओ सविता सिंह, खूंटी थाना प्रभारी दुलारमनी टुडू और डीपीएम कानन बाला तिर्की शामिल थीं. उन्होंने छात्राओं से पूछताछ की. इनमें कई छात्राओं ने निदेशक बबलू द्वारा छेड़छाड़ किये जाने की बात कही. नर्सिंग की छात्राओं ने बताया कि शिक्षिकाओं के अनुपस्थित रहने पर बबलू उर्फ परवेज आलम क्लास लेता था. एक-एक छात्रा को अलग कमरे में बुलाकर सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर गलत हरकत करता था. होरा संस्था की सचिव मरियम आइंद और शिक्षिका मीनाक्षी तोपनो से भी पूछताछ की गयी. रात नौ बजे खूंटी पुलिस ने आरोपी बबलू खान उर्फ परवेज को पूछताछ के लिए बुलाया. इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. बबलू उर्फ परवेज रांची के अरगोड़ा थाना क्षेत्र के कडरू का रहनेवाला है।