31.1 C
Delhi
HomeLocal newsकानपुर : इत्र कारोबारी पीयूष जैन को सोना खरीदने के मामले में...

कानपुर : इत्र कारोबारी पीयूष जैन को सोना खरीदने के मामले में हो सकती है सजा, डीआरआई ने दाखिल की चार्जशीट

- Advertisement -spot_img

कानपुर/बीपी प्रतिनिधि। इत्र कारोबारी पीयूष जैन को तस्करी का सोना खरीदने के मामले में सजा हो सकती है। डीआरआई ने कस्टम एक्ट की धारा 135 के तहत चार्जशीट दाखिल की है। इसमें सात साल तक की सजा और जुर्माने का प्रावधान है। डीआरआई ने चार्जशीट में कहा है कि यह सिर्फ राजस्व हानि का मामला नहीं है बल्कि पीयूष ने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया है। ऐसे में आर्थिक अपराधी भी हो सकता है।

विदित हो कि पीयूष के घर से मिला सोना विदेशी है। इसकी जांच सेंट्रल रेवेन्यू कंट्रोल लेबोरेट्री (सीआरसीएल) नई दिल्ली से कराई गई। जांच में बरामद सोना 99.86 फीसदी तक शुद्ध पाया गया है। इस तरह का सोना केवल विदेश में ही मिलता है। उल्लेखनीय है कि डीजीजीआई (महानिदेशालय जीएसटी इंटेलिजेंस) ने 22 दिसंबर को शिखर पान मसाला, गणपति रोड कैरियर्स और पीयूष जैन के यहां एक साथ छापा मारा था।

इसमें पीयूष के आनंदपुरी स्थित आवास से 177.45 करोड़ और कन्नौज स्थित आवास से 19 करोड़ समेत 196.45 करोड़ नकद मिला था। इसके अलावा 23 किलो सोने की सिल्ली मिली थी। इसकी जांच अलग से डीआरआई ने की थी। जांच के बाद चार सौ पेज की चार्ज शीट भी कोर्ट में दाखिल कर दी गई है। इसमें पीयूष को सोना तस्करी का भी आरोपी बनाया गया है। सूत्रों ने बताया कि डीजीजीआई ने आयकर विभाग को मामले की प्रारंभिक रिपोर्ट सौंप दी है। आयकर विभाग ने जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें…

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -