15.1 C
Delhi
HomeLocal newsकानपुर : आईआईटी में मनाया गया दिव्यांग प्रकोष्ठ का वर्चुअल वार्षिकोत्सव

कानपुर : आईआईटी में मनाया गया दिव्यांग प्रकोष्ठ का वर्चुअल वार्षिकोत्सव

- Advertisement -

कानपुर/बीपी प्रतिनिधि। आईआईटी कानपुर में दिव्यांग प्रकोष्ठ का वर्चुअल वार्षिक उत्सव मनाया गया। इसके साथ ही प्रकोष्ठ की ओर से अंतर्राष्ट्रीय विकलांगता दिवस का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य विकलांगता के मुद्दों की समझ को बढ़ावा देना और विकलांग व्यक्तियों की गरिमा, अधिकारों और कल्याण के लिए समर्थन करने के लिए था।

इस वर्चुअल समारोह का शुभारम्भ प्रकोष्ठ के समन्वयक प्रो। कौशिक भट्टाचार्य ने किया। आयोजन के दौरान उन्होंने मुख्य अतिथि डॉ. जीतेन्द्र अग्रवाल (संस्थापक तथा सीईओ), सार्थक एजुकेशनल ट्रस्ट, अन्य विभाग के मुख्य सदस्यों और उपस्थित सदस्यों को सम्बोधित करते हुए कार्यक्रम को आगे बढ़ाया।

तत्पश्चात मौजूद प्रकोष्ठ के छात्र सदस्य दीपांशु कटारे ने मुख्य अतिथि के जीवन के बारे में कुछ शब्दों का वर्णन किया, कि कैसे डॉ अग्रवाल शारीरिक कठिनाइयों के बाद भी आज इतने बड़े मुकाम पर पहुंचे हैं। कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए डॉ. अग्रवाल ने अपने संगठन सार्थक एजुकेशनल ट्रस्ट में हो रही गतिविधियों को बताया जो कि प्रमुखतः दिव्यंजनों के लिए है।

संगठन में तरह तरह के प्रशिक्षण कार्य चलते हैं जिसके बाद लोगों को रोजगार का अवसर प्रदान होता है। साथ ही उन्होंने बीते वर्ष लांच “कैप सारथी ” नामक एप का भी उल्लेख किया एप में रोजगार से सम्बंधित जानकारी उपलब्ध है। इन दिनों सार्थक ट्रस्ट आईआईटी, एनआईटी, जैसे संस्थानों में पढ़ रहे दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए रोजगार उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है जो कि बहुत ही सराहनीय कार्य है।

कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए प्रकोष्ठ के सदस्य प्रो। वेंकटेश ने प्रकोष्ठ की बीते वर्ष की गतिविधियों और छात्रों को प्रदान की जाने वाली सुविधाओं के बारे में बताया। कार्यक्रम में आईआईटी, कानपुर के पूर्व छात्र, प्रो. अतुल भार्गव ने भी सहभागियों को सम्बोधित किया।

इसके बाद प्रकोष्ठ के पूर्व सदस्य रिटायर्ड प्रो. सुधीर कामले जी ने अपना अनुभव और प्रकोष्ठ के प्रति सद्भावना व्यक्त की। कार्यक्रम में प्रकोष्ठ की पूर्व समन्वयक डॉ. अनुभा ने प्रकोष्ठ में होने वाली भविष्य की गतिविधियों का वर्णन किया। कार्यक्रम के दौरान संस्थान के रजिस्ट्रार केके तिवारी, प्रो. एआर हरीश, डीन रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट (DoRD) एवं शिकायत निवारण अधिकारी संदीप सिंह एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

अंत में प्रकोष्ठ के मुख्य सदस्य प्रो। समित रे चौधरी ने कैंपस में हो रहे सुलभ इमारतों के निर्माण कार्य का उल्लेख किया। समारोह के समापन में प्रकोष्ठ के सदस्य सत्यम गुप्ता ने मुख्य अतिथि डॉ. जीतेन्द्र अग्रवाल (संस्थापक तथा सीईओ), सार्थक टीम एवं उपस्थित सभी सदस्यों का धन्यवाद किया और सभी की भागीदारी की सराहना की।

यह भी पढ़ें…

आयोजन को सफलतापूर्वक संपन्न करने में प्रकोष्ठ के सदस्यों प्रो. समित रे चौधरी (सीडीएपी, चेयरमैन), प्रो. कौशिक भट्टाचार्य, प्रो. अनुभा गोयल, प्रो. केएस वेंकटेश, सत्यम गुप्ता, रितिका गुप्ता एवं अन्य छात्र सदस्यों का भी योगदान रहा।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -