10.1 C
Delhi
HomeLocal newsमुजफ्फरनगर : 67 लाख रुपये लेने के बावजूद नहीं दिलाया बसपा का...

मुजफ्फरनगर : 67 लाख रुपये लेने के बावजूद नहीं दिलाया बसपा का टिकट

- Advertisement -

मुजफ्फरनगर/बीपी प्रतिनिधि। जिले की चरथावल व‍िधानसभा सीट से टिकट कटने पर बसपा नेता अरशद राणा का दर्द शहर कोतवाली में फूट पड़ा। पुलिस के सामने उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी के एक वरिष्ठ नेता को दो वर्ष पहले टिकट के लिए 67 लाख रुपये दिए थे, लेकिन उनका टिकट काट दिया गया। उनके रुपये भी वापस नहीं किए गए।

अरशद राणा ने चेतावनी दी कि यदि उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्मदाह करेंगे। अरशद राणा ने बसपा के एक पदाधिकारी के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस जांच के बाद कार्रवाई की बात कह रही है। चरथावल विधानसभा क्षेत्र के गांव दधेड़ू निवासी अरशद राणा काफी समय से बसपा में सक्रिय हैं। उनकी पत्नी ने बसपा के सिंबल पर जिला पंचायत सदस्य पद पर चुनाव भी लड़ा था। वह खुद भी बसपा से चरथावल सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे।

एक दिन पहले ही बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर जानकारी दी कि चरथावल विधानसभा सीट से पार्टी ने सलमान सईद को प्रत्याशी बनाया है। शहर कोतवाली में उन्होंने तहरीर देकर 67 लाख रुपये वापस दिलाने और कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि पार्टी नेताओं ने उनका तमाशा बना दिया। बंद कमरे मे बैठकर उन्हें विश्वास में लेकर टिकट दूसरे को दे देते तो उन्हें इतनी तकलीफ न होती। इंस्‍पेक्‍टर आनंद देव मिश्र का कहना है क‍ि तहरीर म‍िली है जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

पूर्व गृह राज्यमंत्री के बेटे को बसपा ने बनाया प्रत्याशी : सलमान सईद प्रदेश के पूर्व गृह राज्यमंत्री सईदुज्जमां के बेटे हैं। दो दिन पहले सलमान सईद ने मायावती से मुलाकात कर कांग्रेस छोड़ी थी। इसके बाद बसपा ने उन्हें चरथावल से प्रत्याशी घोषित कर द‍िया। उधर, बसपा के ज‍िलाध्‍यक्ष सतीश कुमार का कहना है क‍ि अरशद राणा पर पार्टी की और से कोई जिम्मेदारी भी नहीं है। इस मामले में उनको कुछ भी नहीं पता है। जानकारी की जाएगी।

यह भी पढ़ें…

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -