31.1 C
Delhi
HomeLocal newsसासाराम : डीएम का कड़ा रुख देख अधिकारियों के छूटे पसीने, लोगों...

सासाराम : डीएम का कड़ा रुख देख अधिकारियों के छूटे पसीने, लोगों की समस्या से दूर रहने वाले अधिकारी जनता की बात सुनने पहुंचे गांव

- Advertisement -spot_img

सासाराम/अरविंद कुमार सिंह। डीएम धर्मेंद्र कुमार गांव में जाकर के लोगों की समस्या सुनने लगे हैं। ग्रामीण इसकी खुले दिल से तारीफ कर रहे हैं। वहीं ग्रामीणों की समस्या को लेकर के अधिकारी सावधान होने लगे हैं और डीएम भी अपने जांच के दौरान जनता से शिकायत मिलती है तो सीधे करवाई कर रहे हैं। इस कारण ग्रामीण जनता में डीएम की कार्यों की तारीफ हो रही है।

ग्रामीणों को शिकायत के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं है डीएम गांव में खुद ही जाकर के जांच कर रहे हैं जहां नहीं जा रहे हैं वहां जिले के अधिकारियों द्वारा जांच कर जिलाधिकारी को रिपोर्ट माग रहे है। बुधवार को नोखा प्रखंड के धर्मपुरा पंचायत में नल जल योजना सहित कई योजनाओं की जांच की। सदर हॉस्पिटल सासाराम में पहुंचकर के अनुपस्थित कर्मियों की वेतन कटौती की और स्पष्टीकरण की मागा।

डीएमके अचानक निरीक्षण से अधिकारी भी हरकत में आ गए। वही धर्मपुरा पंचायत के ग्रामीणों ने कहा कि डीएम साहब गाव में आकर कड़ी गर्मी में समस्या पूछ रहे हैं जरूर हम लोग समस्याएं दूर होगी । जब पानी नहीं मिलेगा तो इसमें लोग नल जल योजना के पाइप में बकरी ही बांधेंगे । उक्त बातें डीएम धर्मेन्द्र सीह धर्मपुरा पंचायत के वार्ड नंबर 2 में जांच के क्रम में कहा। बुधवार को धर्मपुरा पंचायत के वार्ड नंबर 2 में जांच करने के लिए डीएम पहुंचे नल जल योजना की जांच करते हुए लोगों से पूछा कि क्या आपको पानी मिलता है या नहीं।

कुछ लोगों ने कहा कि पानी मिलता है। वहीं जांच के क्रम में नल जल योजना के साथ लगाए गए पाइप में बकरी बंधी मिली तो डीएम ने कहा कि इसमें पानी निकलता है। घरवालों ने कहा कि एक दो बार पानी आई है। यहां पर पानी नही पहुचता। उपस्थित वार्ड सदस्य कमिश्नर दुबे ने कहा कि यह वार्ड नंबर 2 का अंतिम घर है इसलिए पानी नहीं पहुंच पाता बहुत ही कम मात्रा मिलती है। डीएम ने कहा कि जब पानी नहीं पहुंचा तो लोग पाइप में बकरी बांधेंगे ही। वही बार्ड 3 में उपस्थित ग्रामीणों में कोमल राम से डीएम ने पूछा कि क्या आपको राशन मिलता है।

उन्होंने बताया कि पूरी मात्रा नहीं मिलती और 1 माह पहले की मिलती है। किसी किसी माह नही देते है। डीलर का नाम लोगो ने दीनानाथ राय के बारे में कहा कि यह पूरी मात्रा नहीं देते हैं। 5 किलो जगह 4 किलो देते हैं। वहीं पर उपस्थित मार्केटिंग अफसर संजीव कुमार को निर्देश दिया कि इसे दिखाइए। नल जल योजना में ही वार्ड नंबर 3 में डीएम ने देखा कि सप्लाई पाइप जमीन के बदले घर के बीच से लगाया गया है। डीएम ने जेई ज्योति कुमारी से पूछा क्या इस तरीके से पानी घर में जाएगी । आपने कभी जांच किया है वही नल जल योजना के तहत जेई ज्योति कुमारी को फटकार लगाया । नल जल योजना का निरीक्षक में कई खामियां पाई।

डीएम ने तकनीकी सहायक ज्योति कुमारी के वेतन पर रोक लगाते हुए करवई का निर्देश दिया और नल जल योजना में लापरवाही बरतने पर जांच की बात कही। बिजली के बारे में पूछा कि कितने घण्टे बिजली रहती है। आंगनवाड़ी केंद्र के बारे में जानकारी ग्रामीणों से ली । इस मौके पर जिला परिषद सदस्य सह मुखिया प्रतिनिधि महावीर साह ने डीएम से पंचायत विकास के बारे में जानकारी दी और लोगों से बातचीत कर समस्याओं की जानकारी ली। ग्रामीणों की समस्याएं की जानकारी ली।

यह भी पढ़ें…

ग्रामीणों ने डीएम से कहा कि गांव में पीसीसी ढलई नहीं है। जिस पर डीएम ने कहा कि अभी इस पर काम नहीं हो रहा है आगे काम शुरू होगा तो गली की ढलाई हो जाएगी। आंगनबाड़ी केंद्र के बारे में भी जानकारी ली। मौके पर नोखा प्रखंड के प्रभारी पदाधिकारी सौरभ आलोक, मुखिया प्रतिनिधि महावीर शाह , वीडियो रामजी पासवान ,सीओ सुमन कुमार , सीडीपीओ आशा कुमारी , पंचायती राज पदाधिकारी अमर पासवान सहित कई लोग मौजूद रहे।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -