10.1 C
Delhi
HomeLocal newsमृत जवान आदित्य की पत्नी को नौकरी व 50 लाख रुपये मुआवजा...

मृत जवान आदित्य की पत्नी को नौकरी व 50 लाख रुपये मुआवजा मिले : राजन तिवारी

- Advertisement -

मोतिहारी/राजन दत्त द्विवेदी। जिले के संग्रामपुर प्रखंड क्षेत्र में अवैध शराब कारोबारियों के द्वारा एयर फोर्स के जवान आदित्य कुमार उर्फ आलोक तिवारी की हत्या की सूचना पर पूर्व विधायक राजन तिवारी उसके घर पहुंच परिजनों का ढांढस बंधाया। कहा इस दुख की घड़ी में हम आपके साथ है। साथ ही फोन से एसपी से बात कर हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी करते हुए अनुसंधान और कार्रवाई में शिथिलता बरतने वाले संग्रामपुर थाना प्रभारी को बदलने की मांग की।

वहीं उन्होंने सरकार से मांग किया कि मृत जवान आदित्य की पत्नी को सरकारी नौकरी एवं पचास लाख रुपए मुआवजा दे। उन्होंने नाम नहीं लेते हुए बताया कि अवैध शराब के कारोबारियों को नीतीश सरकार के एक मंत्री का संरक्षण प्राप्त है, जिस कारण अवैध शराब कारोबारियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। वहीं पूर्व विधायक से अपने पुत्र आलोक की हत्या की घटना के बारे में जानकारी देते हुए पिता चन्देश्वर तिवारी फफक पड़े।

कहा कि आखिर क्या गलती थी उसकी। उसने तो अपने खेत मे शराब तस्करों द्वारा बनाये गए रास्ते को रोका तो इतनी बड़ी को अंजाम दे दिया। उन्होंने एसएचओ को घटना की जांच और कार्रवाई में उचित सहयोग नहीं करने की बात भी बताई। कहा नीतीश कुमार की शराबबंदी धरातल पर पूरी तरह फेल है। जिसका खामियाजा हमें अपने बेटे को खोकर भुगतान पड़ा है।

यह भी पढ़ें…

मौके पर ग्रामीणों ने पूर्व विधायक श्री तिवारी जैसे नेता पर भरोसा जताते हुए कहा आप जैसे नेता के सहयोग से न्याय मिल सकता है। मौके पर जीप सदस्य पंकज कुमार द्विवेदी, ईश्वरचंद्र उर्फ पप्पू रंजन मिश्र उप्रमुख प्रतिनिधि सुजीत तिवारी, ग्रामीण अजय कुमार तिवारी, रामा तिवारी, सेवानिवृत्त शिक्षक लालबाबू तिवारी, विनोद बिहारी तिवारी सहित सैकड़ों मौजूद थे।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -