चंपारण: सभी बैंक दिए लक्ष्य के अनुरूप सभी योजनाओं में अपेक्षित प्रगति लाएं- डीएम

चंपारण / राजन दत्त द्विवेदी: मोतिहारी डीएम शीर्षत कपिल अशोक की अध्यक्षता में जिला स्तरीय परामर्श दात्री समिति एवं जिला स्तरीय समीक्षा समिति की बैठक नाबार्ड के डीडीएम, एलडीएम व सभी बैंकों के रीजनल मैनेजर, कोऑर्डिनेटर के साथ संपन्न हुई। बैठक में जिला साख योजना की उपलब्धि, साख जमा अनुपात, केसीसी योजना की उपलब्धि, सामाजिक सुरक्षा योजना की उपलब्धि, मुद्रा योजना की उपलब्धि, पीएमईजीपी का उपलब्धि, एसएचजी जीवका, समग्र गव्य विकास योजना एवं केसीसी मत्स्य पालन की उपलब्धि, कंफेड एवं पीएम स्वनिधि योजना की अद्यतन उपलब्धि की डीएम ने बैंक वार समीक्षा की। डीएलसीसी की बैठक में डीएम ने कहा सभी बैंक दिए गए लक्ष्य के अनुरूप सभी योजनाओं में अपेक्षित प्रगति लाएं।



सीडी रेशियो में सुधार करें और उसे बढ़ाएं…

डीएम ने कहा कि जो बैंक केसीसी, जीविका समूह, प्रधानमंत्री स्व निधि योजना एवं अन्य योजनाओं में अपेक्षित प्रगति नहीं लाते हैं तो उनके विरुद्ध कार्रवाई के लिए वित्त सचिव, एसएलबीसी को प्रतिवेदित किया जाएगा। डीएम ने कहा है कि जो बैंक अच्छे परफॉर्मर है उनके यहां सरकारी खाता शिफ्ट किया जाएगा। उन्होंने ने साफ शब्दों में कहा कि हम राष्ट्र के विकास के लिए काम करते हैं । इसलिए बैंकों को रोजगार के लिए ऋण देने में उदारता बरतनी चाहिए और लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि हासिल होनी चाहिए। डीएम ने संभाव्यता युक्त ऋण योजना (पोटेंशियल लिंक्ड क्रेडिट प्लान )2021– 22 की पुस्तिका का भी विमोचन किया।