28.1 C
Delhi
Homeमोतिहारीचंपारण : बकाया कमीशन भुगतान के लिए ईख पदाधिकारी स्वयं जांच करेंगे...

चंपारण : बकाया कमीशन भुगतान के लिए ईख पदाधिकारी स्वयं जांच करेंगे : डीएम

- Advertisement -

22 जुलाई, मोतिहारी / (राजन दत्त द्विवेदी) : जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक की अध्यक्षता में क्षेत्रीय विकास परिषद मोतिहारी एवं चकिया की संयुक्त समीक्षा बैठक हुई। इस बैठक में ईख पदाधिकारी, सहायक निदेशक ईख विकास, चीनी मिल गोपालगंज, मझौलिया, सिधवलिया के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। मुख्य रूप से क्षेत्रीय विकास परिषद मोतिहारी व चकिया की संयुक्त बैठक में निम्न एजेंडा पर विस्तृत चर्चा की गई।

जिसमें वित्तीय वर्ष 2020 – 21 एवं 2021-22 के बजट प्रस्ताव पर विचार-विमर्श तथा अनुमोदन करने, बजट प्रस्ताव स्वीकृति उपरांत योजनाओं के क्रियान्वयन पर चर्चा करने, चीनी मिलों से प्राप्त ईख विकास संबंधी योजना प्रस्ताव पर विचार विमर्श करने, क्षेत्रीय विकास परिषदों के बकाया कमीशन के लिए चीनी मिलों को निर्देश, मझौलिया चीनी मिल द्वारा विगत कई वर्षों से कमीशन भुगतान नहीं किए जाने पर चर्चा एवं दयानंद साहनी संविदा अनुसेवक के भूतलक्षी प्रभाव से अवधि विस्तार पर विचार विमर्श शामिल है।

इस दौरान डीएम ने बिंदुवार प्रस्ताव की समीक्षा किए। ईख विकास पदाधिकारी ने कहा कि 70 प्रतिशत बजट ईख विकास के लिए किया जाना है। डीएम ने कहा है कि बकाया कमीशन भुगतान के लिए ईख पदाधिकारी स्वयं जांच करेंगे। यदि बकाया है तो रिपोर्ट सात दिनों के अंदर भेजेंगे। बकाया राशि को कर्णकित करके शेष बचे हुए राशि में ही बजट बनाने का डीएम ने निर्देश दिया है। कहा कि बजट प्रस्ताव योजनावार बनाया जाए। योजनावार बजट प्रस्ताव बनाकर विभाग को भेजा जाएगा। दयानंद सहनी अनुसेवक की एक साल के लिए संविदा विस्तार का अनुमोदन हुआ। शेष वर्षों के लिए एक टीम बनाकर जांच प्रतिवेदन के उपरांत ही निर्णय लिया जाएगा।

यह भी पढ़े…

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -