चंपारण : डॉक्टर, पारा मेडिकल स्टाफ एवं अन्य स्टाफ की नियोजन की प्रक्रिया करें शीघ्र शुरू : एसके अशोक

मोतिहारी/राजन दत्त द्विवेदी : कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने के लिए डीएम लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में आज जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने सदर अस्पताल स्थित कोविड केयर सेंटर पहुंच कर तैयारी का जायजा लिया। वहीं अधिकारियों के साथ एक आवश्यक बैठक कर स्थिति नियंत्रण के लिए विमर्श किया।


डीएम ने निर्देश दिया कि सरकार के निर्देशानुसार जल्द से जल्द डॉक्टर, पारा मेडिकल स्टाफ एवं अन्य स्टाफ की नियोजन की प्रक्रिया को शुरू करें। जिससे पारा मेडिकल स्टाफ, डॉक्टर की कमी को दूर किया जा सके। डीएम ने डाक्टर रंजीत राय एवं डीडीसी कमलेश कुमार सिंह को जिले के सभी प्राइवेट हॉस्पिटल, सरकारी हॉस्पिटल जिसमें कोविड केयर सेंटर संचालित है, उसकी देखरेख के लिए नोडल पदाधिकारी बनाने का निर्देश दिया। डीएम ने बायो वेस्ट एजेंसी को नोटिस देने के लिए निर्देशित किया। ताकि वह वायोवेस्ट का निस्तारण हो सके। उन्होंने एक क्रय समिति बनाने का निर्देश दिया। क्रय समिति के द्वारा मेडिकल इक्विपमेंट अन्य सामग्री को खरीदा जाए।

इस क्रय समिति में अपर समाहर्ता आपदा प्रबंधन, कोषागार पदाधिकारी, सिविल सर्जन, अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, जिला यक्ष्मा पदाधिकारी होंगे।
उन्होंने सदर अस्पताल स्थित डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर को सही ढंग से संचालित करने के लिए उपस्थित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिससे लोगों को बेहतर सुविधा दिया जा सके और लोग ठीक होकर घर जा सके। मौके पर डीडीसी, अपर समाहर्ता, अपर समाहर्ता आपदा प्रबंधन अनिल कुमार, अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, सिविल सर्जन अखिलेश कुमार सिंह एवं डीपीआरओ सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।