31.1 C
Delhi
Homeमोतिहारीनई शिक्षा नीति सक्षम और आत्मनिर्भर भारत के लिए है श्रेष्ठ :...

नई शिक्षा नीति सक्षम और आत्मनिर्भर भारत के लिए है श्रेष्ठ : मंत्री

- Advertisement -spot_img

मुंशी सिंह महाविद्यालय के प्रशाल में बुस्टा का महासम्मेलन का हुआ आयोजन

मोतिहारी/राजन द्विवेदी। बिहार सरकार के गन्ना सह विधि विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा कि नई शिक्षा नीति को समावेशी और सबके लिए हितकर बताया। कहा कि नई शिक्षा नीति सक्षम और आत्मनिर्भर भारत के लिए श्रेष्ठ है। मंत्री श्री कुमार आज मुंशी सिंह महाविद्यालय के प्रशाल में बुस्टा का महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

वहीं इसके पूर्व प्रारंभ में कार्यक्रम का उद्घाटन मंत्री कुमार, विधान पार्षद केदार पांडेय, विधान पार्षद डॉ. वीरेंद्र नारायण यादव, विधान पार्षद संजय कुमार सिंह, एलएस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. ओपी.राय, प्रो.सतीश कुमार राय, एलएनडी के प्राचार्य डॉ.अरुण कुमार, पूर्व कुलपति डॉ.रवींद्र कुमार रवि और एमएस कॉलेज के प्राचार्य प्रो.अरुण कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर विधिवत कार्यक्रम का उद्घाटन किया। सभा को संबोधित करते हुए विधान पार्षद और शिक्षक नेता डा.संजय कुमार सिंह ने कहा कि उच्च शिक्षा के क्षेत्र में निजीकरण एक दुखद अध्याय है।

विधान पार्षद डॉ.वीरेंद्र नारायण यादव ने कहा कि उच्च शिक्षा के क्षेत्र में नया प्राण फूंके जाने की जरूरत है। विधान पार्षद केदार पांडेय ने कहा कि नई शिक्षा में बहुत कुछ ग्रहण करने योग्य है और बहुत कुछ सर्वथा त्याज्य। उन्होंने शिक्षकों से संगठित होने का आह्वान किया और कहा कि कलयुग में संगठन ही शक्ति है। नई शिक्षा नीति 2020 चुनौतियां और इसमें शिक्षक संगठनों की भूमिका विषय पर विमर्श के दौरान सारी बातें निकल कर आईं। आधार व्याख्यान डॉ.प्रमोद कुमार महाविद्यालय निरीक्षक कला एवं वाणिज्य ने दिया।

इस अवसर पर डॉ.सतीश कुमार राय, जयकांत सिंह जय, डॉ.विपिन कुमार राय, डॉ. एस.के.झा, डॉ.नीलिमा झा, डॉ.शिखा राय समेत सैकड़ों शिक्षक शिक्षिकाएं मौजूद रहीं।प्रारंभ में स्वागत भाषण महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.अरुण कुमार ने दिया, मंच संचालन अंग्रेजी विभागाध्यक्ष डॉ.(मो.)एकबाल हुसैन और धन्यवाद ज्ञापन डॉ.रेवती रमण झा ने किया। खबर लिखे जाने तक चुनाव की प्रक्रिया जारी है। यह जानकारी प्राचार्य अरुण कुमार ने दी है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -