14.1 C
Delhi
Homeदेश-विदेशCORONA : अमेरिका और ब्रिटेन में ओमिक्रोन के बढ़ते केसों से हालात...

CORONA : अमेरिका और ब्रिटेन में ओमिक्रोन के बढ़ते केसों से हालात खौफनाक, मरीजों से भरे अस्पताल

- Advertisement -

-ब्रिटेन में 24 घंटे में 218,724 नये मरीज मिले , 48 और लोगों की मौत। अमेरिका में कोरोना संक्रमण के करीब रिकॉर्ड 10 लाख नए केस

सेंट्रलडेस्क। दुनिया मे कोरोना संक्रमण तमाम देशों में तेजी से अपने पांव पसार रहा है । ब्रिटेन और अमेरिका जैसे मंजर बहुत ही खौफनाक है। संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ने से अस्पताल भरने लगे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो
ब्रिटेन में ओमिक्रोन संक्रमण के मामले रिकॉर्ड स्तर पर तेजी से बढ़े हैं।

देश में पहली बार कोरोना संक्रमण के 2 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं जिससे अस्पतालों की स्थिति काफी खराब है ।अस्पतालों में कर्मचारियों की काफी कमी होने इलाज में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पिछले 24 घंटे में यहां संक्रमण के 218,724 मामले सामने आए हैं।

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक कोरोना संक्रमण से देश में 48 और लोगों की मौत हो गई है। इसी तरह अमेरिका में भी कोविड-19 का खतरा काफी बढ़ गया है। यहां बड़ी संख्या में लोग कोरोना एवं उसके नए वैरिएंट ओमीक्रोन की गिरफ्त में आ रहे हैं। सोमवार को यहां कोरोना संक्रमण के करीब 10 लाख नए केस आए जो कि एक रिकॉर्ड है।

कुछ दिनों पहले तक संक्रमण की जो संख्या आ रही थी अब उससे दोगुनी संख्या में लोग संक्रमित हो रहे हैं। लंदन से मिली खबर के अनुसार ब्रिटेन में कोरोना का फैलाव रिकॉर्ड स्तर पर अस्पतालों में संक्रमित लोगों और वेंटिलेशन की जरूरत वाले लोगों का पहुंचना लगातार जारी है लेकिन अस्पतालों में स्टाफ की भारी कमी है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा कर्मचारियों की कमी से जूझ रही है।पॉजिटिव पाए जाने के बाद कई कर्मचारी अपने घर पर है।ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने सबसे अधिक संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में अस्पतालों में स्टाफ की कमी को जल्द दूर करने का वादा किया है। उन्होंने कहा कि नाइटिंगेल क्लीनिकों को सक्रिय किया जा रहा है. साथ ही सेना के सपोर्ट से कई मेडिकल स्वयंसेवक इस काम में जुटे हैं।

अमेरिका में एक दिन में 10 लाख संक्रमित वाशिंगटन की खबर के मुताबिक अमेरिका में कोविड-19 का खतरा काफी बढ़ गया है। यहां बड़ी संख्या में लोग कोरोना एवं उसके नए वैरिएंट ओमीक्रोन की गिरफ्त में आ रहे हैं। सोमवार को यहां कोरोना संक्रमण के करीब 10 लाख नए केस आए जो कि एक रिकॉर्ड है। कुछ दिनों पहले तक संक्रमण की जो संख्या आ रही थी अब उससे दोगुनी संख्या में लोग संक्रमित हो रहे हैं।

सरकार के उपायों के बावजूद देश में कोरोना एवं ओमीक्रोन का संकट कम होता नहीं दिख रहा है। इतनी बड़ी संख्या में संक्रमण का केस आने से देश में हड़कंप मच गया है। मैरीलैंड में आपातकाल लागू हो गया है। अस्पतालों में बड़ी संख्या में लोग इलाज के लिए भर्ती हो रहे हैं। पिछले सप्ताह अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में 50 प्रतिशत का इजाफा हुआ है।

रिपोर्ट के मुताबिक संक्रमण की यह दर पिछले साल की तुलना में काफी अधिक है। अमेरिका में पिछले कुछ दिनों में प्रतिदिन का औसत केस 486,000 रहा है लेकिन पिछले एक सप्ताह में संक्रमण की यह संख्या दोगुनी हो गई है। यह दुनिया के किसी भी अन्य देश की तुलना में काफी ज्यादा है। सोमवार को संक्रमण के कुल 978,856 केस आए। इसमें शनिवार एवं रविवार के भी केस शामिल हैं जबकि कई राज्यों की रिपोर्ट इसमें शामिल नहीं थी।

देश में संक्रमण की संख्या में उछाल के पीछे ओमीक्रोन को माना जा रहा है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एवं प्रिवेंशन (सीडीसी) ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका में इस समय संक्रमण के जितने भी केस सामने आ रहे हैं, उनमें से करीब 95.4 प्रतिशत मामले ओमीक्रोन की वजह से हैं।

ओमीक्रोन एवं कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए मैरीलैंड के गवर्नर लैरी होगान ने मंगलवार को राज्य में 30 दिनों के लिए आपातकाल की घोषणा की। होगान का कहना है कि उनके राज्य में पिछले सात दिनों में संक्रमण में 500 प्रतिशत से ज्यादा का उछाल आया है। गवर्नर ने काह कि अगले चार से छह सप्ताह हमारे लिए काफी भारी पड़ने वाले हैं। 

  • स्कूलों की छुट्टियां बढ़ाई गईं
    वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए अमेरिका में स्कूलों की छुट्टियों बढ़ा दी गई हैं। स्कूल एक बार फिर ऑनलाइन माध्यम पर लौट आए हैं। संक्रमण से डरने वाले शिक्षकों और अपने बच्चों को कक्षा में भेजने की इच्छा रखने वाले अभिभावकों के आवेदनों के बीच उलझे न्यूयॉर्क, मिल्वॉकी, शिकागो, डेट्रायट और उससे आगे के शहरों के स्कूल अत्यधिक संक्रामक ओमीक्रोन के कारण अकादमिक वर्ष के बीच खुद को एक कठिन स्थिति में पा रहे हैं।
     

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -