IAF की कार्रवाई के बाद सरकार का बयान- बड़ी संख्या में जैश के आतंकी और ट्रेनर ढेर

0
53

सेंट्रल डेस्क : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले का भारत ने बदला लिया है. भारत ने एलओसी के पार जाकर आतंकी कैंप पर हमला बोला और उनके कई आतंकवादी कैंपों को ध्वस्त कर दिया. सूत्रों की मानें तो भारतीय वायुसेना का यह हमला पूरी तरह से सफल है और आतंकी कैंप पूरी तरह से तबाह हो गए हैं. 

भारतीय वायुसेना (IAF) द्वारा आतंकवादी कैम्पों पर किए गए हवाई हमले के बारे में मीडिया को ब्रीफ करते हुए विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया, “जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तान में दो दशक से सक्रिय है. संसद पर हमले और पठानकोट एयरबेस पर हमले समेत कई हमलों के पीछे रही है. पाकिस्तान इससे इंकार करता रहा है. पुलवामा हमला भी जैश-ए-मोहम्मद ने ही किया.”

विजय गोखले ने बताया, “भारत ने बालाकोट में मौजूद जैश-ए-मोहम्मद के मुख्य ठिकाने पर हमला किया, जिसमें आतंकी गुट के ट्रेनर और आतंकवादी बड़ी संख्या में ढेर हुए.

“बालाकोट का कैम्प जैश-ए-मोहम्मद का सबसे बड़ा कैम्प था. इसे जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर का बहनोई यूसुफ अज़हर संचालित कर रहा था. ऑपरेशन का निशाना खासतौर से आतंकी अड्डे को बनाया गया, ताकि नागरिकों को नुकसान न हो.

गोखले ने बताया, “खुफिया जानकारी मिली थी कि जैश-ए-मोहम्मद भारत में फिर फिदायीन आतंकवादी हमलों की साज़िश रच रहा है, इसलिए उसे रोकने के लिए हमला करना ज़रूरी हो गया था.