पुलमावा आतंकी हमला : बाबा रामदेव ने कहा- आतंकवाद पर भारत को इजराइल से सीखने की जरूरत है

0
184

सेंट्रल डेस्क : जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार को एक बड़ा आतंकी हमला हुआ. एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 30 जवान के शहीद होने की खबर है. इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक करीब 8 जवानों की हालत अब भी नाजुक है और करीब 40 से अधिक घायल हैं. बताया जा रहा है कि उरी अटैक के बाद यह पहला सबसे बड़ा आतंकी हमला है. इस हमले पर कई नेताओं ने दुख जताया है.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा है कि जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। उन्होंने कहा, ‘पुलवामा में हमले के मद्देनजर स्थिति को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह जी और अन्य शीर्ष अधिकारियों से बात की है।’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हमले की निंदा की. उन्होंने ट्वीट किया, ‘मैं CRPF काफ़िले पर कायराना हमले से परेशान हूं. शहीदों के परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं. मैं घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करता हूं.

योग गुरु बाबा रामदेव ने पुलवामा हमले की निंदा करते हुए कहा, ‘आतंकवाद पर छोटे से देश इजराइल से भारत को सीखने की आवश्यकता है. आतंकवादी चाहे देश के भीतर हों या देश के बाहर से आएं, एक भी आतंकवादी जिंदा नहीं बचना चाहिए. हमें ऐसी नीति बनानी पड़ेगी. आंतकवादी पूरी मानवता के लिए खतरा हैं. देश के लिए शहादत देने वाले जवानों को कृतज्ञतापूर्वक नमन!’

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बृहस्पतिवार को कहा कि सुरक्षा बल ऐसे आतंकी कृत्यों के प्रति सख्त रहेंगे और उन्हें पराजित करेंगे. शाह ने अपने ट्वीट में कहा, ”पुलवामा में हमारे सैनिकों पर आतंकी हमले के दुख को शब्दों में बयां नहीं कर सकता. यह कायराना कृत्य है.”

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी ट्वीट कर घटना की निंदा की. उन्होंने लिखा, ‘जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुआ आतंकी हमला अत्यंत कायराना एवं निन्दनीय है. हादसे में शहीद हुए जवानों के प्रति गहरी शोक संवेदना व्यक्त करते हैं. इस दुःख की घड़ी में भारत को एकता दिखाने की आवश्यकता है.’

यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने लिखा कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आज की ताज़ा आतंकी वारदात में बड़ी संख्या में जवानों के हताहत होने की घटना अति दुखद अति-निन्दनीय व गंभीर चिन्ता का विषय। कश्मीर में अमन बहाल हो तथा वह स्वर्ग बना रहे इसकी कामना व ईमानदार प्रयास दोनों ही जारी रखने की सख्त जरूरत।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लिखा जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को आत्मिक नमन. जम्मू-कश्मीर में जिस प्रकार हालात बेक़ाबू हो रहे हैं, उससे पूरे देश में आक्रोश जन्म ले रहा है. भाजपा सरकार को चुनावी राजनीति छोड़कर देशहित में सक्रिय होना चाहिए.

पुलवामा हमले पर राजद नेता तेजस्‍वी यादव ने कहा, ‘सीआरपीएफ के बहादुर जवानों पर हुए आतंकी हमले से सदमे में औ दुखी हूं. इस कायराना हकरत की निंदा करता हूं और सरकार से आतंकियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की अपील करता हूं.’

केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह ने ट्वीट करके कहा, एक सैनिक और भारत का नागरिक होने के नाते इन कायरतापूर्ण हमलों को लेकर मेरा ख़ून खौल रहा है. CRPF के 18 बहादुर जवानों ने पुलवामा में अपनी जान क़ुर्बान कर दी. मैं उनकी क़ुर्बानी को सलाम करता हूं और वादा करता हूं कि हमारे जवानों के ख़ून के हर कतरे का बदला लिया जाएगा. जय हिंद.

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी हमले पर दुख जतया है. महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, ‘कोई भी शब्द इस भीषण आतंकी हमले की निंदा करने के लिए पर्याप्त नहीं है. हमले पर नेशनल कांफ्रेंस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला ने भी ट्वीट कर दुख जताया है.