30.1 C
Delhi
Homeदेश-विदेशजानिए आज क्यों मनाया जाता है यूएफओ डे

जानिए आज क्यों मनाया जाता है यूएफओ डे

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क : आज देशभर में विश्व अज्ञात उड़ान वस्तु दिवस मनाया जा रहा है, जिसे यूएफओ (UFO) भी कहते हैं। वही दुनिया में बहुत से लोग अनआइडेंटिफाइड फ्लाइंग ऑब्जेक्ट को उड़नतश्तरी भी कहते हैं। आज भी कई लोग इसके अस्तित्व में भरोसा रखते हैं जिसके लिए ये दिन मनाया जाता है।

आइए जानते हैं इस दिन की खासियत –

विश्व यूएफओ दिवस को जागरूकता दिवस के रूप में मनाया जाता है। आपको बता दें कि सबसे पहले संयुक्त राज्य अमेरिका में पहली बार व्यापक रूप से अज्ञात उड़नतश्तरी जैसी चीजें आसमान में मंडराती देखे जाने की बात मीडिया रिपोर्ट में बताई गई है। तभी से 2 जुलाई को ‘यूएफओ डे मनाए जाने का लक्ष्य उनके अस्तित्व के बारे में जानने के लिए रखा गया है।

सबसे पहले जर्मनी ने किया था उड़नतश्तरी देखने का दावा –

जर्मनी के नूरेमबर्ग में भी सबसे पहले अप्रैल 1561 में लोगों ने आसमान में बड़े ‘ग्लोब्स’, विशालकाय ‘क्रॉस’ और अजीबोगरीब ‘प्लेट’ जैसी चीजें देखे जाने का दावा किया गया था। वही जानकारी के अनुसार उस समय के चित्रों और लकड़ी की कटिंग से उस घटना की जानकारी मिली है।

रिपोर्ट के मुताबिक, 1897 में टेक्सस में यूएओ नजर आया था। ऐसा माना जाता है कि लोगों ने सिगार के आकार की कोई बड़ी चीज देखी जो विंडमिल से जा टकराई। टेक्सस हिस्टोरिकल कमिशन को एक संकेत मिला जिसमें इस बात के बारे में बताया गया था कि 1897 में यहां एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ जिसके मलबे से एक ऐलियन के शव को भी निकाला गया और किसी अनजान जगह पर उसे दफना दिया गया।

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -