35.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगIAF Air Strike : जंग हुई तो किसी के काबू में नहीं...

IAF Air Strike : जंग हुई तो किसी के काबू में नहीं रहेगी, न मेरे न नरेंद्र मोदी के : इमरान खान

- Advertisement -spot_img

सेंट्रल डेस्क : पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनातनी जारी है. इन सबके बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बार फिर भारत से बातचीत की बात कही है. इमरान खान ने कहा कि हम पुलवामा पर बात करने के लिए तैयार हैं. पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने कहा कि हमने पहले भी कहा था और अब भी कह रहे हैं कि आप हमें सुबूत दें हम उसपर कार्रवाई करेंगे.

उन्होंने कहा कि हमारे लिए भी यह सही नहीं कि हमारी जमीन का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए हो. उन्होंने कहा कि जंग हुई तो यह किसी के काबू में नहीं करेगी. बता दें कि दोनों देशों के बीच तल्खी उस वक्त बढ़ गई जब भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान की सरजमीं में घुसकर जैश के आंतकियों के कैंप (IAF Air Strike) को तबाह कर दिया और करीब 300 आतंकियों को मार गिराया.

इमरान खान के बातचीत के प्रस्‍ताव पर भारत ने पाकिस्‍तानी उपउच्‍चायुक्‍त को एक डोजियर सौंपा। भारत ने इसमें पाकिस्‍तान को पुलवामा हमले में जैश-ए-मोहम्‍मद की मिलीभगत और पाकिस्‍तान में उसके आतंकी ठिकानों तथा उसके नेतृत्‍व के बारे में महत्‍वपूर्ण विवरण दिए।

इससे पहले पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री ने कहा था कि वह पुलवामा हमले से हुए नुकसान को समझते हैं और आतंकवाद पर किसी भी बातचीत के लिए तैयार हैं। हमने हिंदुस्तान को सीधा प्रस्ताव दिया कि जैसी भी जांच आप चाहते हैं, हम उसके लिए तैयार हैं। अगर कोई भी पाकिस्तानी इसमें शामिल है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इमरान ने कहा, ”किसी के मुल्क में किसी को कार्रवाई की इजाजत नहीं होती है। हिंदुस्तान में चुनाव हैं, मुझे लग रहा था कि वो कुछ करेंगे। जब सुबह एक्शन भारत ने लिया। इसके बाद आर्मी चीफ और एयर चीफ से बातचीत की। हमने सुबह एक्शन इसलिए नहीं लिया, क्योंकि हमें तब तक कुछ पुख्ता नहीं पता था। आज हमने एक्शन लिया, हम यह बताना चाहते थे कि हम भी आपके मुल्क में कार्रवाई कर सकते हैं।

खान ने कहा, ”दो हिंदुस्तानी विमानों को मार गिराया, उनके पायलट हमारी गिरफ्त में हैं। अब हम यहां से कहां जा रहे हैं, यहां अक्ल इस्तेमाल करने की जरूरत है। जितनी भी जंगें हुई हैं बड़ी दुनिया में उन्हें कोई समझ नहीं पाया कि ये इतनी बड़ी हो जाएंगी।” अगर जंग हुई तो किसी के काबू में नहीं रहेगी, न मेरे न नरेंद्र मोदी के.

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -