अब अगली ‘मन की बात’ मई के आखिरी रविवार को, मोदी ने कहा- सालों चलेगा बातचीत का सिलसिला

0
155

सेंट्रल डेस्क : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम के 53वें एपिसोड में देश को संबोधित किया। उन्होंने आगामी लोकसभा चुनाव में जीत का भरोसा जताया। मोदी ने कहा कि मई में फिर से मन की बात करूंगा। पीएम ने आगे कहा, ‘मैं चुनाव के बाद आपके आशीर्वाद की ताकत के साथ एक बार फिर बातचीत के इस सिलसिले का आरम्भ करूंगा और सालों तक आपसे ‘मन की बात’ करता रहूंगा.’

‘अब की बात दो महीने बाद’
मोदी ने कहा, “मन की बात कार्यक्रम के माध्यम से आप सब से जुड़ना मेरे लिए एक अनोखा अनुभव रहा है। रेडियो के माध्यम से मैं एक तरह से करोड़ों परिवारों से हर महीने रूबरू होता हूं। कई बार तो आप सब से बात करते, आपकी चिठ्ठियां पढ़ते या आपके फोन पर भेजे गए विचार सुनते मुझे ऐसा प्रतीत होता है कि आपने मुझे अपने परिवार का ही हिस्सा मान लिया है। यह मेरे लिए एक बहुत ही सुखद अनुभूति रही है।”

“मैं लोकसभा चुनाव 2019 के बाद एक नए विश्वास के साथ आपके आशीर्वाद की ताकत के साथ फिर एक बार मन की बात के माध्यम से हमारी बातचीत के सिलसिले का आरम्भ करूंगा और सालों तक आपसे मन की बात करता रहूंगा। चुनाव लोकतंत्र का सबसे बड़ा उत्सव होता है। अगले दो महीने हम सभी चुनाव की गहमा-गहमी में व्यस्त होगें। मैं स्वयं भी इस चुनाव में एक प्रत्याशी रहूंगा। स्वस्थ लोकतांत्रिक परंपरा का सम्मान करते हुए अगली मन की बात मई महीने के आखरी रविवार को होगी।”

‘वीरों ने हमारी रक्षा में खुद को खपा दिया’
मोदी ने कहा, “आज मन भरा हुआ है। 10 दिन पूर्व भारत माता ने अपने वीर सपूतों को खो दिया। इन पराक्रमी वीरों ने हमारी रक्षा में खुद को खपा दिया। देशवासी चैन की नींद सो सकें, इसके लिए जवानों ने अपने दिन-रात दे दिए। शहीदों और उनके परिवारों के प्रति चारों तरफ संवेदनाएं उमड़ पड़ी हैं। जो आवेग आपके मन में है, वही भाव हर देशवासी के अंतर्मन में है। विश्व के लोगों के भी मन में है। भारत माता की रक्षा में अपने प्राण न्योछावर करने वाले देश के सभी वीर सपूतों को मैं नमन करता हूं।”

“देश के सामने आई इस चुनौती का सामना हमें जातिवाद, संप्रदायवाद, क्षेत्रवाद और अन्य मतभेदों को भुलाकर करना है ताकि आतंक के खिलाफ हमारे कदम पहले से कहीं अधिक दृढ़, सशक्त और निर्णायक हों।”