35.1 C
Delhi
Homeदेश-विदेशतो क्या राजनीति में आने का मन बना रहे हैं रॉबर्ट वाड्रा,...

तो क्या राजनीति में आने का मन बना रहे हैं रॉबर्ट वाड्रा, फेसबुक पर लिखा है- देश सेवा में बड़ी भूमिका निभाऊंगा

- Advertisement -spot_img

सेंट्रल डेस्क : प्रियंका गांधी ने हाल ही में सक्रिय राजनीति में उतरने का फैसला किया है और कांग्रेस पार्टी ने उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी बनाकर अहम जिम्मेदारी भी सौंप दी है। अब लगता है कि प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा भी राजनीति में उतरने का मन बना चुके हैं। दरअसल रॉबर्ट वाड्रा ने अपनी एक फेसबुक पोस्ट में इस बात के संकेत दिए हैं। वाड्रा के ताज़ा फेसबुक पोस्ट से ये कयास लगाए जा रहे हैं, जिसमें उन्होंने कहा है कि मनी लॉन्ड्रिंग केस से नाम हटने के बाद वह देशवासियों की सेवा में बड़ी भूमिका निभाना चाहते हैं.

रॉबर्ट वाड्रा का फेसबुक पोस्ट

देश के वास्तविक मुद्दों पर से ध्यान हटाने के लिए एक दशक से अधिक विभिन्न सरकारों ने मुझे बदनाम करने की कोशिश की। देश के लोगों ने धीरे-धीरे महसूस किया कि इन आरोपों में कोई भी सच्चाई नहीं है। लोग इस झूठ से बाहर निकले और मुझपर विश्वास जताया, एक बेहतर भविष्य की शुभकामनाओं के लिए आप सभी का दिल से धन्यवाद।

मैं जिन बच्चों के बीच में जाता था वहां से लेकर नेत्रहीन विद्यालय तक, मदर टेरेसा के विचारों से, विभिन्न धर्मों के पूजा स्थलों पर जाकर, अनाथालयों में जाकर सेवा करने से, अस्पतालों, मंदिरों के बाहर भूखे और गरीब लोगों को खाना खिलाने से तक बहुत कुछ सीखा और खुद को मजबूत बना कर रखा।

केरल, नेपाल और अन्य स्थानों पर बाढ़ आपदा के दौरान मदद भेजना भी एक संतोषजनक अहसास था और सीखने का अनुभव था। अब दिल्ली और राजस्थान में प्रवर्तन निदेशालय के सामने जाना, कई दिनों तक लगभग 8 घंटे तक पूछताछ होना, जबकि मैंने हर नियमों का पालन किया है और निश्चित रूप से ना मैं और ना कोई और कानून से ऊपर नहीं है। इसलिए मैं हर इस चीज से बहुत कुछ सीखता रहा और खुद को मजबूत बनाता रहा।

देश के विभिन्न हिस्सों में काम करते हुए, बहुत दिन रहते हुए मुझे उन लोगों के लिए और अधिक करने की अनुभूति हुई, खास कर यूपी में, जहां मेरी छोटी सी कोशिश बहुत से परिवर्तन कर सकती है। मैंने इन जगहों पर सच्चा प्यार, स्नेह और सम्मान प्राप्त किया जो बहुत वी विनम्रता पूर्वक मुझे मिला।

इन सभी वर्षों के अनुभव और सीख को बर्बाद नहीं किया जा सकता है और इसे बेहतर उपयोग के लिए रखा जाना चाहिए। एक बार मुझ पर लगे इन सभी आरोपों के खत्म हो जाने के बाद, मुझे लगता है कि मुझे लोगों की सेवा करने में एक बड़ी भूमिका समर्पित करनी चाहिए। 

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -