15.1 C
Delhi
HomeNewsझारखंड : जज को ऑटो से टक्कर मारने के मामले में दो...

झारखंड : जज को ऑटो से टक्कर मारने के मामले में दो गिरफ्तार

- Advertisement -

धनबाद (दिवाकर श्रीवास्तव)। झारखंड राज्य के धनबाद में सुबह की सैर पर निकले 52 वर्षीय जिला न्यायाधीश उत्तम आनंद को एक ऑटो रिक्शा ने टक्कर मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई। अभी तक इस घटना को लेकर कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन अब यह बात साफ हो गई है कि यह हादसा नहीं बल्कि हत्या है।

जानकारी के अनुसार न्यायाधीश उत्तम आनंद रंजय सिंह की हत्या मामले की सुनवाई कर रहे थे। लोगों का कहना है कि जब न्यायाधीश आनंद सड़क किनारे धीमी गति से दौड़ रहे थे, तो अचानक एक ऑटो उनकी ओर आया और टक्कर मारकर चला गया। यह घटना पास के एक सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो गई है। धनबाद पुलिस ने ऑटो को कब्जे में ले लिया है। इस मामले में पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी कर रही है।

इधर, इस मामले में धनबाद से सटे गिरिडीह जिले की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने इस मामले में ऑटो चालक और उसके एक सहयोगी को गिरिडीह से गिरफ्तार कर लिया। दोनों जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के डिगवाडीह 12 नंबर के रहने वाले हैं। पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार कर धनबाद ले गई है।

उल्लेखनीय है कि न्यायाधीश आनंद रोज की तरह बुधवार को भी मॉर्निंग वाक पर निकले थे। वे सड़क के बायें किनारे पर धीमी दौड़ लगाते हुए जा रहे थे।पीछे से आने वाली ऑटो अचानक उनकी ओर बढ़ने लगी और देखते ही देखते टक्कर मारकर निकल गई। न्यायाधीश आनंद उसी वक्त सड़क किनारे गिर गए। उन्हें तुरंत अस्पताल ले पहुंचाया गया लेकिन वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि इससे पहले जज उत्तम आनंद की पोस्टिंग बोकारो में थी और छह माह पहले ही वे धनबाद आए थे।

सूत्रों के अनुसार उत्तम आनंद रंजय सिंह हत्या मामले की सुनवाई कर रहे थे। इस केस में झरिया की विधायक पूर्णिमा सिंह के देवर हर्ष सिंह भी आरोपी हैं।जज आनंद ने होटवार जेल में बंद रवि ठाकुर और अभिनव सिंह की जमानत अर्जी खारिज कर दी थी। यह दोनों भी इसी हत्या मामले में आरोपी हैं। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है।

उत्तम आनंद के छोटे भाई सुमन आनंद ने पूरे प्रकरण की सीबीआई जांच की मांग की है। उन्होंने कहा है कि सीसीटीवी फुटेज से स्पष्ट है कि उनकी हत्या की गई है। कोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच हो। मेरे भाई के हत्यारे को सजा मिले। लोगों को न्याय देने वाले के परिवार को आज खुद इंसाफ की जरूरत है।

यह भी पढ़ें…

आज होगा अंतिम संस्कार : न्यायाधीश उत्तम आनंद का पार्थिव शरीर बुधवार की देर रात हजारीबाग शिवपुरी स्थित उनके आवास पर ले जाया गया। उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए काफी संख्या में शहर के लोग भी जुटे हैं। पूरा परिवार सदमे में है। हजारीबाग मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार किया जाएगा।

ये भी देखें…

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -