41 C
Delhi
HomePoliticsचुनाव आयोग का निर्णय, रैलियों, जुलूस और रोड शो पर एक हफ्ते...

चुनाव आयोग का निर्णय, रैलियों, जुलूस और रोड शो पर एक हफ्ते तक पाबंदी जारी

- Advertisement -spot_img

सेंट्रल डेस्क। कोरोना के चलते यूपी, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में होने वाले विधानसभा चुनाव में रैलियों, जुलूस, रोडशो पर प्रतिबंध बरकरार रहेगा। यह फैसला चुनाव आयोग ने एक बैठक के बाद लिया है। यह प्रतिबंध एक हफ्ते तक चलेगा। यानी 29 को आयोग फिर इस मसले पर बैठेगा। पहले अधिसूचना के दिन 8 जनवरी को 15 और अब 22 जनवरी को बैठक के बाद आयोग ने प्रतिबंध का निर्णय लिया।

इस बैठक में आयोग केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव समेत राज्यों के अधिकारी भी शामिल हुए हैं। बीते सात दिन में चुनावी राज्यों में कोरोना के ट्रेंड मिक्स्ड आया है। पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर में डेली केस में 266% की बढ़ोतरी हुई है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश और पंजाब में भी कोरोना के मामलों में मामूली बढ़ोतरी देखी गई है। मणिपुर में 15 जनवरी को 158 केस मिले थे, जो 21 जनवरी तक बढ़कर 578 हो गए, यानी इनमें 266% की बढ़ोतरी हुई है। यहां 15 जनवरी को 1063 एक्टिव केस थे, जो 21 जनवरी तक बढ़कर 2860 हो गए। एक्टिव केस में 1797 (169%) की बढ़ोतरी देखी गई।

उत्तर प्रदेश में 15 जनवरी को 15743 केस आए थे, जो 21 जनवरी तक बढ़कर 16159 हो गए, यानी इनमें 2.64% की बढ़ोतरी दर्ज की गई। पंजाब में 15 जनवरी को 6813 केस दर्ज किए गए थे, जो 21 जनवरी को 7696 हो गए, यानी इनमें 12.9% की बढ़ोतरी दर्ज की गई। ऐसे में बंदिशें कम करने के बजाय बढ़ाने की जरूरत है। पंजाब में एक्टिव केस में भी इजाफा हुआ है। यहां 15 जनवरी को 37546 सक्रिय केस थे। 21 जनवरी को केस बढ़कर 48183 हो गए। एक्टिव केस में 10,937 (28.3%) बढ़ोतरी हुई है।

राज्य में एक हफ्ते में कोरोना से 150 लोगों की मौत हो गई। वहीं 51 हजार नए मरीज मिले। पंजाब में 25 फरवरी से नामांकन शुरू होंगे, जबकि 20 फरवरी को मतदान होना है। गोवा में इन 7 दिनों में रोजाना केस कम हुए हैं। 15 जनवरी को 3274 मिले थे, जो 21 जनवरी तक घटकर 2668 रह गए। यहां केस में 18.5% की गिरावट देखी गई है। गोवा में 15 जनवरी को 20078 एक्टिव केस थे, जो 21 जनवरी को 21974 हो गए। इनमें 1896 (9.44%) की बढ़ोतरी हुई है। उत्तराखंड में 15 जनवरी को 3848 केस दर्ज किए गए थे, जो 21 जनवरी को बढ़कर 4964 हो गए। यहां मामलों में 29% का इजाफा हुआ है। राज्य में 15 जनवरी को 14892 एक्टिव केस थे, जो 21 जनवरी को बढ़कर 26950 हो गए। इनमें 12058 (81%) हुई बढ़ोतरी हुई है।

यह भी पढ़ें…

आयोग ने पार्टियों की इनडोर मीटिंग में 300 लोगों या हॉल की क्षमता के 50% लोगों को शामिल किए जाने की छूट दी गई थी। सिर्फ सोशल मीडिया पर कैम्पेन करने की इजाजत दी गई थी। इस पाबंदी की मियाद आज खत्म हो रही थी। उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में वोटिंग होगी, 10 फरवरी से 7 मार्च तक। उत्तराखंड और गोवा में एक साथ 14 फरवरी को वोटिंग होगी। पंजाब में 20 फरवरी को, वहीं मणिपुर, में 27 फरवरी और 3 मार्च को वोट पड़ेंगे। सब जगह नतीजे 10 मार्च को आएंगे।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -