11.1 C
Delhi
HomePoliticsकानपुर : विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने सिख समाज से मांगी क्षमा

कानपुर : विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने सिख समाज से मांगी क्षमा

- Advertisement -

कानपुर/बीपी प्रतिनिधि। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक के बाद बिठूर के भाजपा विधायक अभिजीत सिंह सांगा का एक ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इस विवादित ट्वीट में धमकी देते हुए उन्होंने लिखा था कि इंदिरा गांधी समझने की भूल मत करना। नरेंद्र दामोदर दास मोदी नाम है। लिखने को कागज और पढ़ने को इतिहास कम पड़ जाएगा।

जब विधायक इस ट्वीट पर ट्रोल होने लगे, तो उन्होंने धमकी वाले ट्वीट को डिलीट कर सफाई में नया ट्वीट किया। इस नए ट्वीट में उन्होंने कांग्रेस पर अपनी भड़ास निकाली और कांग्रेस को सिखों का हत्यारा बताया। लेकिन, इसके बावजूद सिख समाज का गुस्सा बढ़ता ही गया और अपना रोष व्यक्त करते हुए सिमरन जीत सिंह क्षेत्रीय सह संयोजक भाजपा आर्थिक प्रकोष्ठ, कानपुर , बुंदेलखंड क्षेत्र ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन भेजा। वहीं गुरुसिंह सभा कानपुर महानगर की ओर से विधायक अभिजीत सिंह सांगा के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी गयी थी।

इसके बाद आज विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने एक वीडियो जारी कर सिख समाज के प्रति खेद जताया।उन्होंने कहा कि आज से दो दिन पूर्व मेरा ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट पोस्ट किया गया था, जिसकी भाषा निश्चित रूप से अभद्र और निंदनीय है। मैंने तत्काल उक्त ट्वीट को डिलीट कराया और मेरे ट्विटर हैंडल को देखने वालों के खिलाफ कार्रवाई की। साथ ही मैंने उस ट्वीट का खंडन भी डाला।

उन्होंने कहा कि मैं आज आप लोगों के सामने यह कहने आया हूं कि मेरे सिख समाज के लोगों ने हमेशा मेरा साथ दिया है। सिख समाज का एक गौरवशाली इतिहास है। सिख समाज ने हमारे देश को अपने खून से सींचा है और हमारे सनातन धर्म की रक्षा भी सिख समाज ने की है। साथ ही मैं यह बताना चाहता हूँ कि सिख समाज की अनेकों ऐसी संस्थाएं कानपुर में हैं जो इस बात की गवाही दे सकती हैं कि मैंने बिठूर में गुरुद्वारा बनाने का पहला प्रयास मैंने ही किया है।

यह भी पढ़ें…

साथ ही मैं खड्यंत्रकारियों से यह कहना चाहता हूं कि जो खड्यंत्र आप लोग मेरे खिलाफ कर रहे हैं, उसे हम लोग बहुत जल्द बेनकाब कर देंगे। आज सुबह मेरी फेसबुक आईडी को भी हैक किया गया, मैंने इस पर भी कार्रवाई की है। मैं आज आप लोगों के सामने यह कहने आया हूं कि मेरे सिख समाज के साथी, जिन्हें लोग भ्रमित करना चाह रहे हैं, मुझे खड्यंत्र का शिकार बनाना चाह रहा हूं, मैं आपसे यह कहना चाह रहा हूं कि यदि मेरी किसी बात से, मेरे किसी ट्वीट से, मेरे किसी सोशल मीडिया के पोस्ट से यदि किसी की भावना आहत हुई हो तो उसके लिए मैं क्षमाप्रार्थी हूं।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -