10.1 C
Delhi
HomePoliticsमेरठ शहर से भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी का टिकट...

मेरठ शहर से भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी का टिकट कटा

- Advertisement -

स्टेट डेस्क। भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को 107 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दी है। इसी कड़ी में भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी का मेरठ शहर से टिकट काट दिया है, उनकी जगह युवा नेता कमल दत्त शर्मा को टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारा है। जबकि मेरठ कैंट से चार बार विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल का टिकट काटकर अमित अग्रवाल को दिया है।

वही सिवालखास विधानसभा जितेन्द्र पाल सिंह का टिकट काटकर कॉपरेटिव बैंक के चेयरमैन मनिंदर पाल को प्रत्याशी घोषित किया है। जबकि हस्तिनापुर विधानसभा और किठौर विधानसभा में विधायक के विरोध के बाद भी पार्टी ने मेरठ दक्षिण से सोमेंद्र तोमर पर फिर से भरोसा जताया है।

दरअसल भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावसे पहले दूसरे दलों से आने वाले नेताओं को पार्टी में शामिल करने से पहले उनकी स्क्रीनिंग के लिए ज्वाइनिंग कमेटी का गठन किया है। भाजपा ने ज्वाइनिंग कमेटी का अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी को बनाया है। वाजपेयी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। वे वर्ष 2012 से लेकर 2014 तक उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष थे।

इस दौरान पार्टी ने वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में यूपी में 71 सीटें जीती थीं। अब पार्टी ने इनकी वरिष्ठता और अनुभव को ध्यान में रखकर इनको अहम जिम्मेदारी सौंपी है। डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी वर्ष 2017 में मेरठ शहर सीट से विधान सभा चुनाव हार गए थे। वे आज भी अपनी सादगी के लिए जाने जाते हैं।

यह भी पढ़ें…

चार बार विधायक रह चुके लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी मेरठ में स्‍कूटर से चलते हैं। डॉ. लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी ने चौधरी चरण सिंह विश्‍वविद्यालय से बीएससी की थी। इसके बाद उन्‍होंने हरिद्वार के रिषिकुल आयुर्वेद कॉलेज से बीएएमएस की पढ़ाई की।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -