29.1 C
Delhi
HomePoliticsबुधवार को हो सकता है मोदी कैबिनेट का पहला विस्तार, 20 सांसद...

बुधवार को हो सकता है मोदी कैबिनेट का पहला विस्तार, 20 सांसद ले सकते हैं शपथ

- Advertisement -

सेंट्रल डेस्क/दिवाकर श्रीवास्तव। पिछले कई हफ्तों से केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर सुगबुगाहट चल रही है, अभी तक कोई तय तारीख सामने नहीं आई है। कई तरह की संभावनाएं जताई जा रही हैं। वहीं, कुछ नामों को लेकर भी चर्चाएं चल रही हैं कि कैबिनेट विस्तार में किसे-किसे जगह मिल सकती है।

उम्मीद जताई जा रही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को अपनी कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं। कैबिनेट में अभी 28 मंत्री पद खाली हैं और बताया जा रहा है कि 20 सांसदों को मंत्री पद की शपथ दिलाई जा सकती है। सूत्रों के मुताबिक मोदी ने दो दिन तक गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा संगठन महामंत्री बीएल संतोष के साथ कैबिनेट विस्तार पर बैठकें की हैं।

मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाने में अहम रोल निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया मोदी कैबिनेट के नए युवा चेहरा बन सकते हैं। उनके अलावा जबलपुर से भाजपा सांसद राकेश सिंह का भी नाम है। बिहार से लोजपा से सांसद पशुपति कुमार पारस और जदयू के आरसीपी सिंह को मंत्री बनाया जा सकता है। उत्तर प्रदेश से अपना दल की अनुप्रिया पटेल का नाम सबसे आगे है।

अनुप्रिया पिछले महीने दिल्ली जाकर गृह मंत्री अमित शाह से भी मिली थीं। उनके अलावा वरुण गांधी, रामशंकर कठेरिया, अनिल जैन, रीता बहुगुणा जोशी, जफर इस्लाम के नाम की भी चर्चा है। महाराष्ट्र से भाजपा सांसद हिना गावित को केंद्र में मंत्री बनाया जा सकता है।

उनके अलावा भूपेंद्र यादव, पूनम महाजन और प्रीतम मुंडे का नाम भी चर्चा में है। वहीं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे को भी केंद्र में मंत्री बनाया जा सकता है। इनके अलावा बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी को भी मंत्रिमंडल में जगह दी जा सकती है। वहीं थावर चंद गहलोत को मंत्रिमंडल से हटाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें….

- Advertisement -



- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -