10.1 C
Delhi
HomePoliticsउत्तर प्रदेश : बसपा विधायक रामवीर उपाध्याय ने भी बसपा छोड़ी

उत्तर प्रदेश : बसपा विधायक रामवीर उपाध्याय ने भी बसपा छोड़ी

- Advertisement -

स्टेट डेस्क/लखनऊ। चुनावी समर के बीच विभिन्न दलों में भगदड़ मची हुई है। विधायकों का पार्टी छोड़ने और दूसरे दल को ज्वाइन करने का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में बसपा के सादाबाद विधायक रामवीर उपाध्याय ने भी अपनी पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया। उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती को पत्र लिखकर पार्टी की सदस्यता छोड़ने की जानकारी दी।

पार्टी सुप्रीमो मायावती को लिखे पत्र में रामवीर उपाध्याय ने रामवीर उपाध्याय ने कहा है कि मैं वर्ष 1996 (विगत 25 वर्ष) से बहुजन समाज पार्टी का सक्रिय सदस्य हूँ। मैने हमेशा आपके आदेश के अनुक्रम में पार्टी को ऊँचाईयों पर ले जाने के लिए पूरे प्रदेश में दिन रात कड़ी मेहनत की, जिसके फलस्वरूप वर्ष 2007 में उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई।

किन्तु, सत्ता में रहने के बावजूद 2009 के लोकसभा चुनाव, 2012 के विधानसभा चुनाव, 2014 के लोकसभा चुनाव एवं 2017 के विधानसभा चुनाव में उम्मीद के अनुसार सीट न जीतने पर भी पार्टी द्वारा कोई समीक्षा नहीं की गयी, जिसकी मेरे द्वारा समय समय पर मांग की गयी थी। मैने आपको 2019 के लोक सभा चुनाव में अवगत कराया था कि हम इस चुनाव में भी उम्मीद के अनुसार सीट हासिल नहीं कर रहे हैं, क्योंकि हमारे पास से कैडर वोट भी खिसक रहा है।

यह भी पढ़ें…

लेकिन, आपने मेरे द्वारा बताई गयी सच्चाई को नकारते हुए मुझे पार्टी से निलम्बित कर दिया, जिससे मेरी एवं मेरे समर्थक को की भावना आहत हुई। चूँकि आज बहुजन समाज पार्टी मान्यवर कांशीराम साहब द्वारा बनाये हुए सिद्धान्तों एवं आदर्शों से भटक चुकी है, इस कारण मैं बहुजन समाज पार्टी की सदस्यता से त्याग पत्र देता हूँ।

- Advertisement -






- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -