पीएम मोदी ने किया दुनिया की सबसे बड़ी गीता का विमोचन, वजन 800 किलोग्राम है

0
111

सेंट्रल डेस्क : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज विश्व की सबसे बड़ी श्रीमद्भागवत गीता का विमोचन किया। दिल्ली के पूर्वी कैलाश स्थित इस्कॉन मंदिर में प्रधानमंत्री ने श्रीमद्भागवत गीता की आरती उतारी और फिर उसके पन्ने पलटकर विमोचन किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने मंदिर परिसर का भ्रमण किया और मंदिर में मौजूद लोगों को संबोधित किया। बता दें कि विश्व की इस सबसे बड़ी गीता का वजन 800 किलोग्राम है।

प्रधानमंत्री ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। आज सुबह ही मैंने गांधी शांति पुरस्कार में हिस्सा लिया और आज मुझे गीता के भव्यतम रूप का अनावरण करने का मौका मिला। इसके लिए आप सभी बधाई के पात्र हैं क्योंकि इससे और अधिक लोगों तक भगवान कृष्ण का दिव्यज्ञान पहुंचेगा।’

उन्होंने आगे कहा, लोकमान्य तिलक ने जेल में रहकर भी गीता लिखी थी। तिलक ने लिखा था कि इसके संदेश का प्रभाव सिर्फ दार्शनिक या विद्वान लोगों के लिए ही नहीं बल्कि आम लोगों के लिए भी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि गीता की एक प्रति मैंने अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा को भी दी थी।

बता दें कि भगवान श्रीकृष्ण के संदेशों को विश्वभर में फैलाने के उद्देश्य के तौर पर इस ग्रंथ का अनावरण किया गया है। विश्व की इस सबसे बड़ी गीता को बनाने में लगभग डेढ़ करोड़ रुपयों का खर्च आया है। इसे इटली के इस्कॉन में बनाया गया है। इसे पहली बार पिछले साल 11 नवंबर को इटली में प्रदर्शित किया गया था।