कोरोना के बीच भारत में 40 नए लोग बने अरबपति

-अंबानी दुनिया के आठवें सबसे अमीर, अडानी की संपत्ति हुई दोगुनी
-177 अरबपतियों में 60 का घर मुंबई में, 40 का दिल्‍ली में व 22 रहते हैं बेंगलुरु में

सेंट्रल डेस्क/ नई दिल्‍ली : कोरोना महामारी के बीच 40 भारतीयों ने वर्ष 2020 के दौरान अरबपतियों की लिस्‍ट में अपना स्‍थान बनाया है। भारत में अब कुल अरबपतियों की संख्‍या बढ़कर 177 हो गई है। मुकेश अंबानी अभी भी 83 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ सबसे अमीर भारतीय बने हुए हैं।

हुरून ग्‍लोबल रिच लिस्‍ट के मुताबिक 2020 के दौरान रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के प्रमुख की संपत्ति 24 फीसदी बढ़ी है और वह दुनिया के आठवें सबसे अमीर व्‍यक्ति हैं। वहीं गौतम अडानी, जिनकी संपत्ति में पिछले कुछ वर्षों में बेतहाशा वृद्धि हो रही है, की संपत्ति 2020 में दोगुना होकर 32 अरब डॉलर हो गई है और वह दुनिया के 48वें सबसे अमीर और दूसरे सबसे अमीर भारतीय बन गए हैं। उनके भाई विनोद की संपत्ति भी 128 फीसदी बढ़कर 9.8 अरब डॉलर हो गई है। एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक भारत में एक साल में 122 उद्यमी नए अरबपति के रूप में सामने आए जबकि 2019 के दौरान भारत में हर महीने बने तीन नए अरबपति बने।

हुरून ने इस साल 15 जनवरी तक व्‍यक्तिगत और पारिवारिक संपत्ति के आधार पर यह नई रिपोर्ट तैयार की है। महामारी के कारण भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में 7 प्रतिशत से अधिक गिरावट आने का अनुमान है। कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने लॉकडाउन लगाया जिसका सबसे बुरा असर गरीबों पर पड़ा।

हुरून इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्‍टर और चीफ रिसर्चर अनास रहमान जुनैद ने कहा कि भारत में संपत्ति सृजन में सबसे ज्‍यादा हिस्‍सेदारी चक्रिय या पारंपरिक उद्योगों की है, जबकि अमेरिका और चीन में टेक्‍नोलॉजी कंपनियां संपत्ति सृजन में सबसे आगे हैं। उन्‍होंने कहा कि जब टेक्‍नोलॉजी कंपनियां संपत्ति सृजन के मामले में अपनी पूरी क्षमता का इस्‍तेमाल करेंगी, तब भारत अरबपतियों की संख्‍या के मामले में अमेरिका को पीछे छोड़ सकता है।

एचसीएल के शिव नादर 27 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ तीसरे सबसे अमीर भारतीय हैं। सॉफ्टवेयर कंपनी Zcaler के जय चौधरी की संपत्ति 274 प्रतिशत बढ़कर 13 अरब डॉलर हो गई है, जबकि बायजू रविंद्रन और परिवार की संपत्ति 100 प्रतिशत बढ़कर 2.8 अरब डॉलर हो गई है।

महिंद्रा गुप के प्रमुख आनंद महिंद्रा और परिवार की संपत्ति भी 2020 के दौरान 100 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2.4 अरब डॉलर हो गई है। 2020 के दौरान पतंजलि आयुर्वेद के आचार्य बालकृष्‍ण की संपत्ति 32 प्रतिशत घटकर 3.6 अरब डॉलर रह गई है।

177 भारतीय अरबपतियों में से 60 का घर मुंबई में है, जबकि 40 अरबपति दिल्‍ली में और 22 अरबपति बेंगलुरु में रहते हैं। महिलाओं की बात करें तो बायोकॉन की किरन मजूमदार शॉ 4.8 अरब डॉलर की सं‍पत्ति के साथ सबसे अमीर भारतीय महिला हैं। इसके बाद गोदरेज की स्मिता वी कृष्‍णा (4.7 अरब डॉलर) और ल्‍यूपिन की मंजू गुप्‍ता (3.3 अरब डॉलर) का स्‍थान है।