मुजफ्फरपुर के चर्चित बालिका गृह कांड में आया नया मोड़, CBI का खुलासा: खुदाई के दौरान मिली थी 11 लड़कियों की हड्डियां

अभय राज (मुजफ्फरपुर): बिहार के मुजफ्फरपुर के चर्चित बालिका गृह कांड में सीबीआई ने नया खुलासा किया है.आज सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में अपना रिपोर्ट दाखिल किया जिसमें 11 लड़कियों की हड्डी खुदाई के दौरान मिलने का दावा किया है.जिसके आधार ओर सीबीआई का कहना है कि बालिका गृह की हत्या की आसंका है.जिसकी जांच जारी है.सीबीआई ने उन सभी मौतों के लिए बालिका गृह के कर्ता-धर्ता ब्रजेश ठाकुर को जिम्मेदार ठहराया है.


इस कांड में गिरफ्तार गुड्डू के निशानदेही पर मुज़फ़्फ़रपुर के शमशान में खुदाई कराया था.जहाँ से हड्डियां बरामद हुई थी.दाखिल जांच रिपोर्ट में कहा है कि 11 लड़कियों की हड्डियां मिली थी.
बता दे कि आज सुप्रीम कोर्ट में बालिका गृह मामले में नया स्टेटस रिपोर्ट दाखिल किया गया है.रिपोर्ट में यह कहा गया है कि इस मामले में हुई हत्याओं की जांच अभी भी जारी है.बता दे कि सीबीआई के मुताबिक 11 हत्याओं के मामले में मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत अन्य लोगों की भूमिका की जांच चल रही है. इसके साथ ही 11 शवों की भी सीबीआई जांच कर रही है.

इन बीच सीबीआई पर प्रभावशाली लोगों को बचाने के आरोप के मुत्तलिक सीबीआई ने कहा है कि मामले में संलिप्त किसी भी व्यक्ति को बख्शा नही जाएगा. सीबीआई ने जांच पूरी करने के लिए कोर्ट से और समय की मांग की है.सीबीआई इस मामले में पूरक रिपोर्ट दाखिल करने की तैयारी कर रही है.

बता दे कि मुज़फ़्फ़रपुर के बालिका गृह में रहने वाली लड़कियों के साथ यौन उत्पीरण का खुलासा सोशल ऑडिट के दौरान हुआ था.समाज कल्याण विभाग के आदेश पर TISS की कोशिश टीम ने बिहार के सभी बालिका गृहों की जांच की थी.TISS की रिपोर्ट पर तत्कालीन समाज कल्याण सहायक निर्देशक ने बालिका गृह के संचालकों और कर्मियों पर महिला थाने में केस दर्ज कराया था.जिसे बाद में सीबीआई को सौप दिया गया था.इस कांड में ब्रजेश ठाकुर के साथ समाज कल्याण के पूर्व निदेशक रोज़ी रानी,बल संरक्षण पदाधिकारी रवि रौशन समेत 21 लोग जेल में है.