39 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगIAF की कार्रवाई के बाद पाक PM इमरान खान ने अपने सशस्त्र...

IAF की कार्रवाई के बाद पाक PM इमरान खान ने अपने सशस्त्र बलों को ‘हर हालात के लिए तैयार रहने’ को कहा

- Advertisement -spot_img

सेंट्रल डेस्क:भारतीय वायुसेना (IAF) की कार्रवाई के बाद पाकिस्तान की नेशनल सिक्योरिटी कमेटी ने PM इमरान खान की अध्यक्षता में बैठक की. बैठक में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने अपने सशस्त्र बलों, नागरिकों से ‘हर तरह के हालात के लिए तैयार रहने’ को कहा है. बता दें कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए उनकी कमर तोड़ दी है. पीओके के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना ने हवाई हमला किया और उसके सारे कैंपों को तबाह कर दिया.

सरकारी सूत्रों ने खबर दी है कि वायुसेना की इस बड़ी कार्रवाई में करीब 300 आतंकवादी मारे गए हैं और इसमें जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर का बहनोई यूसुफ अज़हर भी मारा गया है जो यह कैंप चला रहा था. भारतीय वायुसेना को इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम देने में 12 मिराज फाइटर जेट का सहारा लेना पड़ा. इतना ही नहीं, करीब 1000 किलो बम भी बरसाए गए. बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसकी जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी.

एयरफोर्स ने एलओसी के पार जाकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंपों पर 1000 किलो के बम गिराये हैं. जानकारी के मुताबिक तड़के 3 बजे चलाए गए ऑपरेशन में एयरफोर्स के 12 मिराज फाइटर प्लेन शामिल थे. इंडियन एयरफोर्स के बेड़े में शामिल मिराज- 2000 (Mirage 2000) डीप पेनिट्रेशन स्ट्राइक एयरक्राफ्ट यानी लड़ाकू विमान है. यह अंदर तक घुसकर मार करने वाला विमान है और इसकी खास बात यह है कि ये भीतर तक जाकर टारगेट को ध्वस्त करने की क्षमता रखता है. पिछले हफ्ते पोखरण में हुए वायुशक्ति में मिराज ने अपनी ताकत दिखाई थी. उसे जो भी लक्ष्य दिया गया उसको तबाह कर दिया था.

आपको बता दें एयरफोर्स की कार्रवाई में मिराज (Mirage 2000) के अलावा डीआरडीओ के बनाये गये मिनी अवाक्स भी शामिल थे, जो करीब 200 किलोमीटर दूर तक हर हरकत पर नज़र रख सकते हैं. साथ में हवा में ईंधन भरने वाला एयर टू एयर रीफ्यूल भी था. करगिल युद्ध के समय भी मिराज ने बिना एलओसी क्रॉस किए पाकिस्तानी में मौजूद आतंकी कैंपों को तबाह किया था. गौरतलब है कि कारगिल जंग के दौरान जो मिग -21 के कमांडिंग ऑफिसर थे वो आज वायुसेना के प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोवा है. उन्होंने भी उस वक़्त मिग -21 से पाक घुसपैठियों को निशाना बनाया था.

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -