सीतामढ़ी के तीन प्रखंड में कोरोना जांच में लगभग तीन करोड़ का घोटाला

सीतामढ़ी: जिले के तीन प्रखंड रीगा,डूमरा एवं रून्नीसैदपुर प्रखंड मे कोरोना जांच मे बड़ी अनियमितता सामने आई है।कोरोना जांच मे लगभग 30 हजार लोगों के नाम पर फर्जी जांच दिखाई गई है।जिसको लेकर सीतामढी के पूर्व सांसद डा.अर्जुन राय ने प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार एवं जिला प्रशासन को कटघरे में खड़ा कर दिया है,कहा है कि जो भी स्वास्थ्य विभाग के पदधिकारी एवं कर्मी दोषी हैं उनके उपर अपराधिक मुकदमा दर्ज कर कड़ी कार्रवाई सरकार करें।प्रेस कांफ्रेंस के दौरान पूर्व सांसद ने बताया कि अभी सीतामढी जिले के सिर्फ तीन प्रखंड मे तीस हजार फर्जी मामले सामने आए हैं।जिले के अन्य प्रखंडो का भी यही हाल है,जिसके फर्जीवारे को भी जल्द ही पर्दाफाश करेंगे।


वही सिविल सर्जन के द्वारा बताया गया है कि मोबाइल नं की इट्री डाटा ऑपरेटर की गलती के कारण छुट गया है जिसका सुधार किया जा रहा है,जिसको लेकर पूर्व सांसद डा.अर्जुन राय ने बताया है कि अगर उक्त व्यक्ति की जांच की गई तो निगेटिव, पॉजिटिव का पता उक्त व्यक्ति को कैसे मालुम हुआ।

वही पत्रकार आनंद बिहारी सिंह ने दो केन्द्र रीगा एवं डूमरा मे कोरोना जांच कराया था,जबकि आनंद बिहारी सिंह के नाम पर तीन जगह रून्नी सैदपुर मे भी इट्री की गई हैं,जो फर्जी है।
मौके पर राजद के जिला अध्यक्ष सफीक खान,घनश्याम कुमार, डा.मंसूर आलम सहित कई राजद कार्यकर्ता मौजूद थे।