शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि तभी दे पाएंगे जब पाकिस्तान को करारा जवाब मिलेगा : केजरीवाल

0
787

सेंट्रल डेस्क : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार को देवली इलाके में सीवर के काम की शुरुआत करने पहुंचे केजरीवाल ने पहले दो मिनट का मौन रखा। इसके बाद विकास के काम की शुरुआत दौरान उनका पूरा भाषण आतंक के खिलाफ था। उन्होंने अपने भाषण में पटना के शहीद संजय सिन्हा, यूपी के महेश कुमार, उत्तराखंड के रोहिताश की शहादत के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि इसी तरह एक-एक शहीद की दर्दनाक कहानी है।

केजरीवाल ने पुलवामा आतंकी हमले को बर्बरतापूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि पूरा देश शोक में डूबा है, लोगों में गुस्सा है। आखिर कब तक देश के जवान शहीद होते रहेंगे। केजरीवाल ने कहा, ‘आज हम सभी एकजुट हैं। सभी धर्म, जाति, संप्रदाय, पार्टी। किसी भी हालत में यह रुकना चाहिए। पाकिस्तान को इसका करारा जवाब मिलना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि देश के कोने-कोने से जवान शहीद हुए हैं। यह कोई छोटा-मोटा हमला नहीं था। यह भारत पर हमला है और इसका कठोर जवाब देना चाहिए।

केजरीवाल ने कहा, ‘मेरा मानना है कि इन शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि तभी दे पाएंगे जब पाकिस्तान को करारा जवाब मिलेगा। इनकी शहादत बेकार नहीं जानी चाहिए। आज सारा देश एकजुट है, और सभी की यही राय है कि पाकिस्तान को जवाब मिलना चाहिए।’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शहीद किसी जाति, धर्म और संप्रदाय के लिए नहीं होते, वे देश के लिए शहीद होते हैं। सभी धर्मों की रक्षा के लिए और उनका एक ही सपना होता है कि उनका भारत दुनिया का नंबर एक देश बने। शहीदों का सपना होता है कि गरीब से गरीब के लिए स्कूल हों, उन्हें शिक्षा मिले, इलाज मिले, पानी हो, रोजगार मिले।

आजादी के 70 साल बाद भी यह सपना पूरा नहीं हुआ है। मगर, दिल्ली में जरूर उनका यह सपना पूरा होने लगा है। आज गरीबों के लिए पूरी शिक्षा, पूरा इलाज, पानी, बिजली फ्री है। सरकार लगातार काम कर रही है। कच्ची कॉलोनियों में भी विकास का काम कर रही है। उन्होंने देवली इलाके के लोगों को भरोसा दिया कि जल बोर्ड की अगली बैठक में पीने के पानी की कमी दूर कर दी जाएगी। हर घर में पानी पहुंच जाएगा।