बिहार बजट 2021: 20 लाख से ज्यादा रोजगार पैदा करेगी नीतीश सरकार

पटना: बिहार सरकार के वित्त मंत्री और डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद ने आज विधानसभा में प्रदेश के लिए इस साल का बजट पेश कर दिया है. वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए पेश किए गए 2 लाख 18 हज़ार 303 करोड़ के बजट के दौरान वित्त मंत्री ने पिछले कुछ वर्षों में सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं के मद में खर्च का ब्योरा भी पेश किया.

बिहार सरकार के इस बजट में युवाओं, बेरोजगारों और किसानों के साथ-साथ प्रदेश के विकास की योजनाओं के लिए राशि जारी करने का भरोसा दिया गया है. साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी सात निश्चय योजना के दूसरे चरण को भी बढ़ाने के लिए 4671 करोड़ की राशि का प्रावधान किया गया है.

यही नहीं, सीएम नीतीश कुमार ने बजट को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि यह बजट संतुलित है और सभी वर्गों के हित को ध्यान में रखकर बनाया गया है. वर्ष 2005 से अब तक राज्य की अर्थव्यवस्था में विकास दर डबल डिजिट में रही है. उसे यह बजट और गति देगा.

2020-25 में रोजगार के 20 लाख से ज्यादा अवसर पैदा किए जाएंगे, सरकारी और गैर सरकारी क्षेत्र में 20 लाख से ज्यादा रोजगार सृजित किया जाएगा. इसके लिए 2021-22 में 200 करोड़ रुपये व्यय किया जाएगा. प्रत्येक प्रमंडल में टूल रूम एवं ट्रेनिंग सेंटर स्थापित किया जाएगा, इनमें आईटीआई एवं पॉलिटेक्निक से प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को अत्याधुनिक मशीनों पर नई तकनीक की ट्रेनिंग दी जाएगी. इसके साथ-साथ 10वीं एवं 12वीं पास युवकों के लिए भी इनमें दीर्घकालीन प्रशिक्षण की व्यवस्था होगी.