PM की घोषणाओं पर बोले मदन मोहन झा, चुनाव के पहले सौगात नहीं जुमलों की बरसात

0
108

पटना (नियाज आलम) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बिहार दौरे के दौरान विभिन्न योजनाओं को लेकर उनके बयान पर विपक्ष ने हमला शुरु कर दिया है। इसी क्रम में बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा पीएम मोदी को निशाना बनाया है।

डॉ. झा ने कहा कि आज हमारे प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने चुनाव से पहले फिर से एक बार जनता को ठगने के लिये जुमलों की बरसात की। पूरा देश शहीदों के शोक में डूबा हुआ है, वहीं प्रधानमंत्री अपने मंत्रियों की फौज लेकर चुनावी रैली को निकले हैं।

पूरा देश उनकी ओर देख रहा है कि वो क्या करने वाले हैं। पूरा देश पूछ रहा है कि सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक कैसे हुई। केंद्र में आपकी सरकार, कश्मीर में केंद्रीय शासन तो फिर ये हुआ कैसे। और आप इसका जवाब देनें की जगह उद्घाटन में लगे है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर रिमोट से ही उद्घाटन करना था तो दिल्ली से भी कर सकते थे। ये चुनावी नौटंकी नहीं तो और क्या है। मजमा लगा कर इस समय उद्घाटन करने का कोई मतलब नहीं। सिर्फ भारत माता के जयकार से भारत माता ख़ुश नहीं होगी, उनके बच्चों के आंसू पोंछने की सोचिये।

रही बात पटना मेट्रो रेल परियोजना के उद्घाटन की तो बता दें कि 2011 के जनगणना के बाद शहरी विकास मंत्री कमलनाथ ने कहा था कि जिन शहरों की आबादी 20 लाख से अधिक होगी, वहीं मेट्रो का परिचालन होगा। पटना उस श्रेणी में आता है।

2015 में ही पटना इंटेग्रेटेड मास रेपीड ट्रांसपोर्ट सिस्टम के अंतर्गत बिहार सरकार ने यह निर्णय लिया था कि पटना में मेट्रो या मोनो रेल परियोजना की शुरुआत की जायेगी। उस समय महागठबंधन की सरकार थी और नीतीश कुमार उसके मुखिया थे।

विस्तारित प्रोजेक्ट रिपोर्ट मई 2015 में ही तैयार हो चुका था, जिसे फरवरी 2016 में बिहार कैबिनेट ने सहमती प्रदान की और सैद्धांतिक रूप से मई 2016 में तत्कालीन शहरी विकास मंत्री वैकैया नायडू ने इस पर अपनी स्वीकृती दी।

डॉ. झा यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि नए मेडिकल कालेजो का निर्माण और पुरानें का विस्तार अच्छी बात है, लेकिन राज्य में जर्जर हो रहे स्वास्थ्य व्यवस्था का क्या। पटना मेडिकल कॉलेज और अस्पताल तक के हालात किसी से छिपे नहीं है। पुराने मेडिकल कॉलेज में शिक्षकों की कमी है तो नये में कहाँ से आयेंगे। प्रधानमंत्री किसान योजना के अंतर्गत सात लाख किसानों को लाभ एक छलावा मात्र है।

उन्होंने कहा कि मोदी जी 70 वर्षों की चर्चा बार बार करते हैं, लेकिन यह भूल जाते हैं कि 70 वर्ष पहले भारत में सुई नहीं बनती थी अब हम राकेट बना रहे। फिर 70 वर्षों में दो बार उनके ही दलो का शासन रहा यह भी भूल जाते कि उस समय देश का विकास रुक गया था।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यूपीए सरकार की लंबित परियोजनाओं का उद्घाटन कर अपनी पीठ थपथपाना जनता खूब समझती है। अब यह ठग बुद्धि नहीं चलेगी। इतना ही बिहार के प्रति आपका दर्द था तो विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं दे देते। जनता सब समझती है।