भाजपा सांसद की PM मोदी से मांग- नितिन गडकरी को सौंप दें कोरोना से जंग की कमान

सेंट्रल डेस्क/नई दिल्ली : कोरोना के बढ़ते केस के बाद जो देश में भयावह हालात हैं, उससे निपटने के तरीकों को लेकर सरकार विपक्ष के निशाने पर है। राहुल गांधी और सोनिया गांधी लगातार ट्वीट और पत्र लिखकर सरकार की आलोचा कर रहे हैं। राहुल गांधी ने तो अब देश में लॉकडाउन लगाने की भी मांग कर दी है।


कोरोना वायरस से निपटने के तरीकों को लेकर मोदी सरकार की अब तक कांग्रेस आलोचना कर रही थी, मगर अब यह सरकार अपनों के निशाने पर भी आ गई है। कोरोना के बढ़ते केसों और चारों तरफ ऑक्सीजन से लेकर बेड तक के लिए मचे हाहाकार के बीच भारतीय जनता पार्टी के सीनियर नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने मांग की है कि इस महामारी से निपटने की कमान नितिन गडकरी को सौंप देनी चाहिए। उन्होंने कोरोना की एक और लहर को लेकर आगाह किया है।

भारत कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जीतेगा जैसा इस्लामी आक्रमणकारी और ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ जीता था। भारत में एक और कोरोना की लहर आ सकती है, जिसमें बच्चे और अधिक खतरे में होंगे। ऐसे में जरूरी कड़े कदम उठाने होंगे। कोरोना से जंग का जिम्मा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नितिन गडकरी को सौंप देना चाहिए। पीएमओ पर सिर्फ निर्भर रहने से काम नहीं चलेगा।

इससे पहले ऑक्सीजन की भारी किल्लत को लेकर सुब्रमण्यम स्वामी ने मोदी सरकार को घेरा था। उन्होंने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा था कि सरकार को यह कहना बंद कर देना चाहिए कि कितना ऑक्सीजन हमारे पास उपलब्ध है। बल्कि यह कहना चाहिए कि कितनी हमने सप्लाई की है और किन-किन अस्पतालों में इसे भेजी गई है। पिछले साल अक्टूबर में ही स्टैंडिंग कमेटी फॉर हेल्थ ने यह चेताया था कि ऑक्सीजन सिलेंडर और सप्लाई की भारी किल्लत है। सरकार ने उसकी कोई परवाह नहीं की।