चंपारण: किसी भी बुखार से पीड़ित बच्चों को शीघ्र नजदीकी अस्पताल में लाएं- कमलेश कुमार सिंह

मोतिहारी/राजन दत्त द्विवेदी: समाहरणालय स्थित राधाकृष्ण भवन में आज एईएस व जेई के रोकथाम एवं कालाजार नियंत्रण कार्यक्रम के लिए जिला टास्क फाॅर्स की बैठक प्रभारी डीएम अखिलेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में हुई। जिसमे एडिशनल कलेक्टर, सिविल सर्जन डॉ अखिलेश्वर प्रसाद सिंह, एईएस व जेई के नोडल पदाधिकारी सुधीर कुमार के साथ डीईओ, आइसीडीएस के जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, जीविका के जिला प्रबंधक, जिले के सभी बाल विकास परियोज़ना पदाधिकारी आदि मौजूद थे। बैठक में मुख्या रूप से चमकी को धमकी देने की बात की गई। बताया कि पूर्व तयारी के रूप में जिले के सभी प्राथमिक एवं सामुदिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सभी 50 जरूरी दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित हो। सभी पीएचसी पर संभावित मरीजों के लिए पर्याप्त बिस्तर की व्यवस्था, आपातकालीन उपकरणों की व्यवस्था एवं एम्बुलेंस की सभी संभावित क्षेत्रों में व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।


डीएम ने मुख्य रूप से सभी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए बताया की किसी भी बुखार वाले बच्चे जिसकी उम्र 6 माह से 10 वर्ष तक की है उसे शीघ्र नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में पहुचाएं। जिसके लिए सरकारी एम्बुलेंस की व्यवस्था है। एम्बुलेंस के पहुंचने में देरी होने पर पीड़ित अपने स्तर से वाहन की व्यवस्था कर स्वास्थ्य केंद्र पर पहुचें। जिसका भुगतान हॉस्पिटल के द्वारा मरीज़ के पहुंचते ही किया जाना है। सिविल सर्जन डॉ अखिलेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया की हमारे विकास सहयोगी संस्था के द्वारा ये अपेक्षा की जाती है की केयर इंडिया एवं यूनिसेफ के द्वारा पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी अपेक्षित सहयोग दें।

केयर इंडिया के जिला टीम लीडर अभय कुमार भगत एवं यूनिसेफ के एसएमसी धर्मेन्द्र कुमार ने अपने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया। साथ ही केयर इंडिया के मुकेश कुमार ने कालाजार उन्मूलन के लिए किए जा रहे प्रयासों को विस्तार से बताया। कहा कि जिले में अभी तो कालाजार नियंत्रण के क्षेत्र में बहुत सारे काम हो रहे हैं और कालाजार मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है। 2020 में मरीजों की कुल संख्या 69 मात्र रह गयी है। कालाजार के रोकथाम हेतु सिंथेटिक पायराथायराइड का छिड़काव कुल 215 प्रभावित गांव में मार्च के पहले सप्ताह में प्रस्तावित है। डीएम ने अपील किया कि छिड़काव दल के आने पर सभी लोग अपने घर में छिड़काव अवश्य कराएं।