CORONA OUTBREAK: उन्नाव के सरस्वती मेडिकल कालेज में कोरोना से 9 मौतें, जिले में त्राहिमाम

उन्नाव (अजय कुमार ) : उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ और कानपुर के बीच स्थित उन्नाव में कोरोना संक्रमण से त्राहिमाम की स्थिति है । नवाबगंज स्थित सरस्वती मेडिकल कालेज में एक साथ 9 कोरोना संक्रमितों की मौत से हाहाकार मच गया है ।इस खबर से जनपद में कोरोना को लेकर भय और दहशत का माहौल पैदा हो गया है। प्रशासन में हड़कंप मचा है । मृतको के स्वजनों में जबरदस्त गुस्सा और आक्रोश है। उन्नाव के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर आशुतोष ने 9 मौतों की पुष्टि करते हुए दुख व्यक्त किया ।


उन्होंने बताया कि सरस्वती मेडिकल कॉलेज लेवल-2 कोविड होस्पिटल है। जो 9 कोविड मरीजों की मौत हुई है , वे सभी मरीज उन्नाव के थे।जो मरीज आए थे वो सभी कोरोना पॉजिटिव थे साथ ही दोनों फेफड़ों में निमोनिया और एआरडीएस से पीड़ित थे. सभी मरीजों को सरकारी एंबुलेंस के द्वारा लाया गया और आईसीयू में भर्ती कराया गया था। अस्पताल में भर्ती के दौरान मरीजों स्थिति काफी गंभीर थी. सभी को आक्सीजन पर रखा गया था।अस्पताल में ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है।मरीजों का कोविड प्रोटोकॉल द्वारा इलाज किया गया था. लेकिन मरीजों को बचाया नहीं जा सका ।

सूत्रों के मुताबिक नवाबगंज स्थित सरस्वती मेडिकल कॉलेज में स्थिति बेहद खराब है और आने वाले दिनों में मौत का आंकड़ा बढ़ सकता है। कोरोना मरीजों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल किया है. जिसमें वो बोल रही हैं कि इस मेडिकल सेंटर में उन्हें इलाज नहीं मिल रहा है और सांस की तकलीफ होने के बाद भी ऑक्सीजन नहीं दी जाती है. जिसकी वजह से आने वाले में और भी ज्यादा मौते होंगी।

परिजनों का हंगामा

सरस्वती मेडिकल कॉलेज में भर्ती नौ कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद परिजनों ने इलाज में लापरवाही और पर्याप्त ऑक्सीजन के साथ दवा न देने से मरीजों की मौत का आरोप लगाया और कोविड हॉस्पिटल गेट पर जमकर हंगामा किया। सरस्वती मेडिकल कॉलेज में अब तक कोरोना से संक्रमित 470 लोगों को भर्ती कराया जा चुका है. मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ स्थिति आउट ऑफ कंट्रोल हुई हैं.जिसकी वजह से लोग दम तोड़ रहे हैं. पिछले पांच दिन में इस अस्पताल में 25 लोगों की मौत हो चुकी है