29.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगतेजस्वी का रुपये बांटना गरीबों का अपमान, आचार संहिता का उल्लंघन- सुशील...

तेजस्वी का रुपये बांटना गरीबों का अपमान, आचार संहिता का उल्लंघन- सुशील मोदी

- Advertisement -

पटना: सुशील मोदी ने कहा कि लालू परिवार के किसी सदस्य को यदि राजद शासन के समय चारा-अलकतरा घोटालों और काम के बदले जमीन लिखवाने जैसे भ्रष्टाचार से कमाई गई सम्पत्ति से गरीबों की कुछ मदद करनी होती, तो वे अच्छे स्कूल-अस्पताल खोलवाते।

तेजस्वी यादव ने नकद रुपये बाँट कर गरीबों की मदद नहीं की, बल्कि भिखारी की तरह उनका अपमान किया। नेता प्रतिपक्ष का यह आचरण आचार संहिता का उल्लंघन है। राहुल गांधी कश्मीरी पंडित होने का दावा करते हैं, जबकि उनकी पार्टी जम्मू-कश्मीर में पंडितों पर हुए अत्याचार और उनके सामूहिक पलायन को वोट बैंक के नजरिये से देख कर चुप्पी साधे रही थी।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब प्रबल राजनीतिक इच्छाशक्ति से धारा – 370 को हटा कर राज्य के दलितों-पिछड़ों के साथ-साथ कश्मीरी पंडितों को भी न्याय दिलाया, तब राहुल गांधी की पार्टी इसका विरोध करने में पाकिस्तान की भाषा बोलने लगी।


राहुल गांधी को भाजपा की आलोचना करने के बजाय कांग्रेस की गलत कश्मीर नीति के लिए माता वैष्णो देवी से क्षमायाचना करनी चाहिए थी।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -