कानपुर में वैकल्पिक विवाद समाधान केंद्र का हुआ ई-लोकार्पण

न्यूज़ डेस्क/ कानपुर: आज कानपुर महानगर में उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार नवनिर्मित वैकल्पिक विवाद समाधान (एडीआर) केंद्र का उद्घाटन न्यायमूर्ति गोविंद माथुर, मुख्य न्यायाधीश, माननीय उच्च न्यायालय, इलाहाबाद/ मुख्य संरक्षक, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, उत्तर प्रदेश न्यायमूर्ति संजय यादव, वरिष्ठ न्यायाधीश उच्च न्यायालय, इलाहाबाद/ कार्यपालक अध्यक्ष, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, उत्तर प्रदेश एवं न्यायमूर्ति सूर्य प्रकाश केसरवानी, प्रशासनिक न्यायाधीश, सत्र संम्भाग, कानपुर नगर की गरिमामयी उपस्थिति में लोकार्पण किया गया।

उक्त कार्यक्रम में आरपी सिंह, अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण / जनपद न्यायाधीश, कानपुर नगर, अन्य न्यायिक अधिकारी व प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहे। आरपी सिंह, अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने बताया कि उक्त कार्यक्रम राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित किया गया था एवं एडीआर केंद्र के निर्माण का उद्देश्य कचहरी से हटकर सुलह समझौता का वातावरण बनाया जाए। जिसमें सुलह समझौते/मिडियेशन के आधार पर वादों का निस्तारण कराया जाए, जिससे कि न्यायालय पर अनावश्यक रूप से मुकदमों की भीड़ ना लगे।

एडीआर भवन में स्थाई लोक अदालत और सचिव जिला की सेवा प्राधिकरण का कार्यालय संचालित होगा। मिडियेशन सेंटर अलग-अलग बनाए गए हैं जिसमें दो पक्षों को अलग-अलग बैठा कर मिडियेशन के माध्यम से समझौता कराया जा सके। इसका मुख्य उद्देश्य जिले की जनता को सस्ता, सुलभ और शीघ्र न्याय प्रदान करने के लिए और विवाद से बचने के लिए इस भवन का निर्माण किया गया है।

इस मौके पर सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ऐश्वर्य प्रताप सिंह व प्रशासनिक अधिकारी में पुलिस कमिश्नर असिम अरुण, अपर जिलाधिकारी बसंत अग्रवाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनिल मिश्रा उपस्थित रहे।