Fight Against Corona: बिहार में धार्मिक आयोजनों पर भी ग्रहण, वैवाहिक कार्यक्रमों में सिर्फ दो सौ लोग ले सकेंगे हिस्सा

(स्टेटडेस्क , पटना ) : बिहार में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते धार्मिक आयोजनों पर ग्रहण लग गया है।उल्लेखनीय है कि अगले सप्ताह से नवरात्र और रमजान शुरू हो रहे हैं।गृह विभाग की विशेष शाखा द्वारा शुक्रवार को जारी किए गए आदेश में धार्मिक स्थलों में आम आदमियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। अंतिम संस्कार में 50 और श्राद्ध तथा वैवाहिक आयोजनों में दो सौ लोगो के भाग लेने की अधिकतम सीमा होगी । ये सभी पाबंदियां 30 अप्रैल तक लागू रहेंगी ।


इसके अलावा सरकार ने सभी स्कूल, कॉलेज व कोचिंग संस्थानों को अठारह अप्रैल तक बंद रखने का फैसला लिया है। पहले बंदी ग्यारह अप्रैल तक थी। पूर्व से तय परीक्षाएं अपने तय समय पर होंगी। सभी तरह के व्यावसायिक प्रतिष्ठान अगले तीस अप्रैल तक शाम सात बजे तक ही खुले रहेंगे। अकस्मिक सेवा जैसे मेडिकल स्टोर पर ये बंदिशें लागू नही होंगी ।

  • गृह में निम्न बातें हैं
  1. सभी धार्मिक स्थल आमजनों के लिए तीस अप्रैल तक बंद
  2. निजी दफ्तर 35 फीसद उपस्थिति के साथ ही चलेंगे, औद्योगिक प्रतिष्ठानों को छूट
  3. सरकारी दफ्तरों में उप सचिव से ऊपर के अधिकारी की शत प्रतिशत उपस्थिति, नीचे के कर्मी 35 प्रतिशत ही आएंगे
    4.-पब्लिक ट्रांसपोर्ट अपनी क्षमता का पचास फीसदी ही उपयोग करेंगे
  4. पार्क व उद्यान में मास्क का प्रयोग अनिवार्य होगा
  5. रेस्टोरेंट व भोजनालय अपनी क्षमता के केवल 25 फीसद ग्राहकों को ही सेवा देंगे
    मामले और बढ़े तो रात्रि कर्फ्यू लागू होगा ।