29.1 C
Delhi
Homeट्रेंडिंगसंसद ठप करना विपक्ष की गैरजिम्मेदराना कार्रवाई, जनता के 133 करोड़ रुपये...

संसद ठप करना विपक्ष की गैरजिम्मेदराना कार्रवाई, जनता के 133 करोड़ रुपये बरबाद हुए – सुशील मोदी

- Advertisement -

पटना: सुशील मोदी ने कहा कि जिस कांग्रेस ने 1975 में आपातकाल लागू कर लोकतंत्र का गला दबाया था, उसी की अगुवाई में कुछ दल आज संसद की कार्यवाही लगातार ठप कर लोकतंत्र का दामन तार-तार कर रहे हैं।


संसद विचार-विमर्श का सबसे गरिमापूर्ण मंच है, लेकिन जो लो यहां नारेबाजी, शोर-शराबा और मंत्री के हाथ से कागज छीनने तक के अमर्यादित आचरण कर रहे हैं, उन्हें देश देख रहा है। संसद ठप करने से अब तक करदाताओं के 133 करोड़ रुपये बरबाद हो चुके हैं।

सदन की कार्यवाही तय करने से लेकर इसके सुचारु संचालन तक में विपक्ष की बराबर की भागीदारी होती है। राज्यसभा में महँगाई के मुद्दे पर चर्चा के लिए कांग्रेस का प्रस्ताव स्वीकृत है।


सरकार जब हर मुद्दे पर जवाब देने के लिए तैयार है, तब बहस के बजाय हंगामा का रास्ता अपनाना विपक्ष की गैरजिम्मेदराना कार्रवाई है। राज्यसभा मानसून सत्र में अपने निर्धारित समय में केवल 21 फीसद चल सकी।

- Advertisement -


- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -